अगर आप अनुशासित हैं तो दुनिया के सबसे अच्छे बच्चे हैं

ब्रह्मचारी राहुल भैया ने गणतंत्र दिवस पर बाल सभा में कहा

छिंदवाड़ा/ आप दुनिया के सबसे अच्छे बच्चे हो, इतना ही नहीं आप भारत के अच्छे और सच्चे नागरिक हो। अधिक क्या कहें आप भारत के भाग्य विधाता हो। यह बात ब्रह्मचारी राहुल भैया ने गणतंत्र दिवस की पूर्व बेला पर अरिहंत इंटरनेशनल एकेडमी में बाल सभा में कही।
कार्यक्रम में मुख्य वक्ता राहुल भैया तथा सभा की अध्यक्षता एआइए के डायरेक्टर दीपकराज जैन ने की। इस अवसर पर विशाल शास्त्री, प्राचार्य दिव्या नागर, एडमिन विजेंदर इंदुरकर, शिक्षक व विद्यार्थी मौजूद रहे। इस मौके पर चेयरमैन संजीव जैन, सूरज एवं रेणुका गडकरी ने स्वागत कर गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि हमें बहुत ही अनुशासन, त्याग, तपस्या के बाद आजादी मिली है। आजादी की प्राप्ति में देश के महापुरुषों सहित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का विशेष स्थान है] जिन्होंने सत्य और अहिंसा के बल पर देश को आजादी दिलाई।
उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि आप जीवन मे अपने लक्ष्य को तभी हासिल कर सकते हो जब आप अनुशासित रहें। गुरुजनों के साथ माता-पिता एवं बड़ों का आदर करें। अपने कार्य को पूरी ईमानदारी एवं कर्तव्य निष्ठा के साथ करें। जीवन मे अच्छा दिखने की नहीं अपितु अच्छा बनने की कोशिश करें। आपका नाम आग लगाने वालों में नहीं बल्कि आग बुझाने वालों में शामिल हो। उन्नति के लिए वर्तमान संसाधन मोबाइल और सोशल मीडिया के हिंसक खेलों से दूर रहें ।

, , ,

Leave a Reply