अस्पताल का कायाकल्प देखने आज पहुंचेगी टीम, तैयार करेगी रिपोर्ट

जरूरी सुविधाओं को लेकर देगी दिशा निर्देश, भोपाल की टीम करेगी अंतिम जांच

अनूपपुर। कायाकल्प योजना के तहत जिला अस्पताल को बेहतर स्वास्थ्य सुविधायुक्त बनाने के प्रयासों में पिछले तीन माह से की जा रही तैयारियों में २१ जनवरी को पहली बार शहडोल की जांच टीम द्वारा जिला अस्पताल का निरीक्षण करेंगी, जहां नेशनल अर्सेसनर के रूप में प्रख्यात जिला अस्पताल शहडोल के आरएमओ डॉ. जीएस परिहार की टीम द्वारा जिला अस्पताल का निरीक्षण किया जाएगा। इस टीम को जिला कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने विशेष रूप से आमंत्रित करते हुए उनके निर्देशन में शेष बेहतर सुविधाओं के लिए अपना सुझाव देने की अपील की है। ताकि जिला अस्पताल प्रबधक द्वारा भोपाल की आने वाली टीम से पूर्व उनकी व्यवस्था कराते हुए जिला अस्पताल को कायाकल्प के प्रावधानों के अनुरूप बेहतर अंक प्रदान करने में मददगार साबित हो। वहीं सुविधा मरीजों और परिजनों के लिए बेहतर विकल्प के रूप में भी सामने आए। उल्लेखनीय है कि भोपाल की विशेष टीम २३ जनवरी को जिला अस्पताल का निरीक्षण करेगी, जो कायाकल्प के प्रावधानों के अनुरूप विभिन्न ३०० बिन्दूओं पर गहन जांच पड़ताल करते हुए अंक प्रदान करेगी। जिसकी प्रदेश स्तरीय समीक्षा उपरांत अंक प्रतिशत दिया जाएगा और उसमें सफल रहने पर शासकीय स्तर पर अवार्ड राशि मिल सकेगी। जिला अस्पताल सिविल सर्जन डॉ. एससी राय ने बताया कि हमारी ओर से जिला अस्पताल की समुचित सुविधाओं को प्राथमिकता देते हुए व्यवस्थाएं बनाई गई है। कर्मचारी, पदाधिकारी दिन-रात कड़ी मेहनत के साथ व्यवस्थाओ ंको बनाने में जुटे हैं। यह हमारी लिए उपलब्धि की बात होगी कि जिस अस्पताल को कायाकल्प के प्रावधानों के तहत सालभर में तैयार किया जाना चाहिए था, वह हमने मात्र ढाई माह में तैयार कर दिया है। नेशनल लेवर के असेसनर और शहडोल जिला अस्पताल के आरएमओ डॉ. जीएस परिहार द्वारा प्राथमिक स्तर पर निरीक्षण किया जाएगा, जहां अबतक हुए कार्यो की समीक्षा करते हुए और क्या बेहतर हो सकता है व्यवस्था को बनाने निर्देशित करेंगे। हालंाकि सिविल सर्जन ने शहडोल टीम और भोपाल टीम की जांच के बीच मात्र एक दिन का फासला बताया है। लेकिन बावजूद उन्होंने शहडोल टीम के दिए सुझाव को भी तत्काल पूर्ण करने के आश्वासन दिए हैं। इस दौरान जिला अस्पताल के कायाकल्प में अनूपपुर नगर के व्यापारियों ने भी अपना सहयोग देते हुए मरीजों व परिजनों के बैठने के लिए परिसर में १० सीमेंट की कुर्सिया उपलब्ध कराई है। वहीं आगे भी सहयोग देने का आश्वासन दिया है। फिलहाल जिला अस्पताल की निगाहें शहडोल टीम की जांच और दिशा-निर्देश पर टिकी है।
वर्सन:
पिछले ढाई माह से लगातार मरम्मती और सौन्दर्यीकरण कार्य कराते हुए हम कायाकल्प के प्रावधानों के रूप में पूरी तैयारी में है। पहले शहडोल की जांच टीम आएगी, जबकि २३ जनवरी को भोपाल की जांच टीम अस्पताल का निरीक्षण करेगी।

, ,

Leave a Reply