कंधा ओर मुखाग्नि देकर तीन बेटियों ने निभाया बेटे का फर्ज

अंतिम शव यात्रा में पिता को कंधा देते हुए बेटियां

झाबुआ -पेटलावद। ग्राम सारंगी में तीन बेटियों ने अपने पिता का देहांत होने पर उन्हें अंतिम यात्रा के दौरान कंधा ओर मुखाग्नि देकर अपना फर्ज निभाया है। दरसअल सारंगी निवासी नागूलाल चौहान उम्र 55 वर्ष का बुधवार शाम बीमारी के चलते देहान्त हो गया।जिनका कोई बेटा नही था ऐसे में उनकी तीन बेटियां सीलु, साधना और प्रिया ने मिलकर उन्हें आज गुरुवार को अंतिम यात्रा में कंधा देकर ओर मुखाग्नि देकर बेटो की तरह अपना फर्ज निभाया। अंतिम यात्रा के दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीण शामिल हुए। तीनो बेटियों का कहना है की हमे हमारे पिता बेटो की तरह मानते थे, और आज जब उनका देहांत हुआ तो हमने भी पिता को अंतिम यात्रा में कंधा देकर मुखाग्नि देते हुए बेटो की तरह अपना फर्ज निभाया।

Leave a Reply