खबर

मजदूरो का दरद

देश पर बेरोजगारी और मजदूरो का शौषण कम होने का नाम नही ले रह है ।

कम मजदूरी और 12 घंटे काम से मजदूरो की सुनने वाला कोई नही है ।।। मजदूर देश के विकास र सहायक है

Leave a Reply