ग्रामीण विकास विभाग ने आजादी का अमृत महोत्सव के तहत ‘नए भारत की नारी’ विषय पर अपने प्रतिष्ठित सप्ताह समारोह का शुभारंभ किया

भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय का ग्रामीण विकास विभाग, अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के सप्ताह के दौरान 7 से 13 मार्च, 2022 तक आजादी का अमृत महोत्सव के तहत अपने प्रतिष्ठित सप्ताह का आयोजन कर रहा है। इस प्रतिष्ठित सप्‍ताह का विषय भारत में ग्रामीण महिलाओं के योगदान का समारोह मनाने के लिए ‘नए भारत की नारी’ है और इसका आधिकारिक हैशटैग #NayeBharatkiNaari है।

इस अवधि के दौरान, ग्रामीण विकास विभाग ने अपने विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से, राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर समारोह के कार्यक्रमों और गतिविधियों की एक श्रृंखला अयोजित करने की योजना बनाई है। इस प्रतिष्ठित सप्‍ताह का प्रत्‍येक दिन एक उप-विषय को समर्पित किया गया है, जो ग्रामीण महिलाओं द्वारा उपलब्‍ध अवसरों का लाभ उठाने, उनके द्वारा तोड़े गए सामाजिक बंधनों या उन मुद्दों का स्‍मरण कराता है जहां ग्रामीण महिलाओं ने अन्‍य मंत्रालयों और राज्‍यों के सहयोग से तथा मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई सहायता से अच्‍छा प्रदर्शन किया है।

एक सप्ताह चलने वाले इस समारोह के दौरान, प्रत्येक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसईटीआई) महिला प्रशिक्षुओं का एक बैच शुरू करेगा, प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश में 1 लाख से अधिक अर्जित करने वाले 75 स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) की महिलाओं को सम्‍मानित करेगा, प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत  75 महिला लाभार्थियों के गृह प्रवेश का आयोजन करेगा, डीएवाई-एनआरएलएम के तहत ग्रामीण स्‍वयं सहायता समूह की महिलाएं राज्यों के 75 जिलों में स्वच्छता अभियान चलाएंगी, प्रत्येक जिला एसबीएम-जी के तहत समग्रता के माध्‍यम से पीएमएवाई-जी के तहत शौचालयों का निर्माण करने के लिए 750 ग्रामीण महिला लाभार्थियों को वित्‍तीय सहायता प्रदान करेगा।

इन कार्यक्रमों की योजना ‘जनभागीदारी’ सुनिश्चित करने के लिए बनाई गई है ताकि इन समारोहों को ग्रामीण स्तर तक और संपूर्ण ग्रामीण आबादी तक ले जाया जा सके। ग्रामीण विकास मंत्रालय के तहत राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर विभिन्न कार्यक्रमों द्वारा योजना बनाएं गये विषय-वार आयोजन और गतिविधियों का विवरण नीचे दिया गया है:

क्र.सं. गतिविधियों/कार्यक्रमों की योजना
अवसर की आज़ादी | 7 मार्च 2022 (सोमवार)
1 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में दीन दयाल उपाध्याय-ग्रामीण कौशल योजना (डीडीयू-जीकेवाई) के तहत महिला केंद्रित पाठ्यक्रमों के लिए अभियानों को गति प्रदान करना।
2 प्रत्येक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसईटीआई) में महिला प्रशिक्षुओं के एक बैच की शुरुआत।
नए भारत की नारी मार्च 2022 (मंगलवार)
3 दीनदयाल अंत्योदय – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाने के लिए केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री द्वारा राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम की अध्‍यक्षता की जाएगी। ग्रामीण स्वयं सहायता समूह की महिलाओं का अनुभव साझा करना और उन्‍हें सम्‍मानित करना।
आगे बढ़ने की आज़ादी मार्च 2022 (बुधवार)
4 प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश दीनदयाल अंत्योदय- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के तहत 1 लाख रुपये से अधिक अर्जित करने वाले 75 स्वयं सहायता समूह (एसएचजी) की महिलाओं को सम्मानित करेगा।
5 प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश में 75 महिलाओं (एकल या संयुक्त रूप से) को प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के आवासों की मंजूरी प्रदान करेगा।
6 प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश महात्मा गांधी नरेगा के तहत 75 महिला मेट को सम्मानित करेगा।
7 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में रूरबन क्लस्टर के तहत 75 महिला प्रबंधित परियोजनाओं के लिए सम्‍मानित करेगा।
कुपोषण से आज़ादी |  10 मार्च 2022 (बृहस्‍पतिवार)
8 दीनदयाल अंत्योदय- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के तहत जिला/ब्लॉक/ग्राम पंचायत स्तर पर वृक्षारोपण और कृषि-पोषक उद्यान अभियान का ऑन-ग्राउंड अभियान।
9 पोषण के महत्व पर दीन दयाल उपाध्याय – ग्रामीण कौशल्य योजना (डीडीयू-जीकेवाई) और ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसईटीआई) के प्रशिक्षुओं द्वारा रैली का आयोजन।
गर्व से जीने की आज़ादी11 मार्च 2022 (शुक्रवार)
10 दीनदयाल अंत्योदय – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के तहत राष्ट्रीय स्तर पर पोषण के बारे में जेंडर संवाद।
11 प्रत्येक राज्य/केंद्र शासित प्रदेश प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के तहत 75 महिला लाभार्थियों के गृह प्रवेश का आयोजन करेगा।
12 महात्मा गांधी नरेगा के तहत आजीविका के अवसर उपलब्‍ध कराये जाने वाली और सफलता हासिल करने वाली 75 महिलाओं को सम्‍मानित करना।
सफाई से रहने की आज़ादी12 मार्च 2022 (शनिवार)
13 दीनदयाल अंत्योदय – राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) ग्रामीण स्‍वयं सहायता समूह की महिलाएं राज्यों के 75 जिलों में स्वच्छता अभियान चलाएंगी।
14 बेहतर भविष्य के लिए जल संसाधनों को सुरक्षित करना – महिला महात्मा गांधी नरेगा कामगारों द्वारा तालाबों, झीलों, जल धारा और अन्य जल निकायों का सफाई अभियान।
15 प्रत्येक जिला एसबीएम-जी के तहत समग्रता के माध्यम से शौचालयों का निर्माण करने के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के तहत 750 ग्रामीण महिला लाभार्थियों को वित्‍तीय सहायता उपलब्‍ध कराएगा।
सामाजिक बंधनों से आज़ादी| 13 मार्च 2022 (रविवार)
16 दीनदयाल अंत्योदय- राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) के तहत सामाजिक समावेश, सामाजिक विकास और लिंग संबंधी मुद्दों पर काम करने वाले स्‍वयं सहायता समूह की महिलाओं के अनुभव साझा करने और उन्हें सम्मानित करने के बारे में राज्य स्तर पर वेबिनारों/कार्यक्रमों का आयोजन।
17 प्रत्येक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसईटीआई) के तहत प्रशिक्षित महिलाओं को पाठ्यक्रम पूर्णता प्रमाण-पत्र प्रदान करना।
18 दीन दयाल उपाध्याय-ग्रामीण कौशल्य योजना (डीडीयू-जीकेवाई) के तहत प्रशिक्षित महिलाओं को पाठ्यक्रम पूर्णता प्रमाण पत्र प्रदान करना।

Leave a Reply