जिला अस्पताल में सप्लाई होने वाले पानी का पीएचई महकमे ने लिया सैम्पल

पीएचई महकमे ने तीन स्थानों पर दी दबिश

जिला अस्पताल में सप्लाई होने वाले पानी का पीएचई महकमे ने लिया सैम्पल

सतना/ जिला अस्पताल में सप्लाई होने वाले पानी की गुणवत्ता जांचने के लिए सोमवार को पीएचई महकमे ने तीन अलग-अलग स्थानों से सैम्पल लिए। सभी सैम्पल जांच के लिए प्रयोगशाला भेजे गए हैं। जिला अस्पताल में पानी की सप्लाई तीन स्थानों से की जाती है। पीएचई की पाइपलाइन, सामाजिक संस्था के बोर और पुष्करिणी पार्क के पास बोर से। पीएचई विभाग के कर्मचारी सोमवार सुबह जिला अस्पताल पहुंचे। वहां जिला अस्पताल को सप्लाई किए जाने वाले पानी के सैंपल एक लीटर के जार में लिए। सभी जांच के लिए भेजे गए।

50 बेड का होगा मेटरनिटी वार्ड
मेटरनिटी वार्ड में पांच पलंग बढ़ाए गए हैं। यह 45 बेड का था। पांच पलंग बढ़ाए जाने के बाद बेड संख्या 50 हो जाएगी। पीडि़तों के जिला अस्पताल में बढ़ते भार को देखते हुए प्रबंधन द्वारा यह निर्णय लिया गया है। मिशन कायाकल्प अभियान के तहत तीन सदस्यीय टीम एक फरवरी को जिला अस्पताल की चिकित्सा सुविधाओं का जायजा लेगी। प्रबंधन टीम के पहुंचने के पहले सुविधाओं को बेहतर बनाने की कवायद में जुटा है। प्रबंधन के सामने कायाकल्प अभियान के तहत 2015 से मिल रही उपलब्धियों को कायम रखने की चुनौती है।

प्रबंधन ने ननि को लिखा पत्र
जिला अस्पताल प्रबंधन ने पानी की टंकी की सफाई करने के लिए नगर निगम प्रशासन को पत्र लिखा है। प्रबंधन ने ननि प्रशासन से अनुरोध किया कि मिशन कायाकल्प के तहत भोपाल की तीन सदस्यीय टीम जिला अस्पताल की सुविधाओं का जायजा लेने वाली है। इसमें अस्पताल परिसर स्थित पानी की टंकी का भी निरीक्षण टीम द्वारा किया जाएगा। प्रबंधन ने निरीक्षण के पहले पानी की टंकी की सफाई करने अनुरोध किया है।

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply