झोला छाप डाॅक्टरों के खिलाफ कार्यवाही की जावे- कलेक्टर रोहित सिंह

झाबुआ। जिले में झोला छाप डाॅक्टरों की जांच के लिए विशेष मुहीम चलाई जाए और ऐसे डाॅक्टर पाए जाने पर उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जावे ताकि आम जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड न हो सके। यह निर्देश कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में समयावधि पत्रों की समीक्षा बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को दिए हैं। श्री सिंह ने निर्देश दिए हैं कि जिले में जांच अभियान के दौरान पाए जाने वाले झोला छाप डाॅक्टरों के खिलाफ सख्त कार्यवाही सुनिश्चित करें। इस कार्य में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जावें।
कलेक्टर श्री सिंह ने इस बैठक में समयावधि के लंबित पत्रों की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे इन पत्रों के निराकरण के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता दें और लम्बित पत्रों का तत्काल निराकरण करें। इस बैठक में जिले में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उचित मूल्य दुकानों के माध्यम से वितरित किए जा रहे खाद्यान्न वितरण की स्थिति की समीक्षा की गई और खाद्यान्न वितरण का कार्य संतोषजनक नहीं पाए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए आगामी एक सप्ताह में शतप्रतिशत खाद्यान्न वितरण कराने के निर्देश दिए। साथ ही रामा, राणापुर तथा थांदला के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारियों की एक-एक वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश दिए। इन अधिकारियों को आगामी 5 दिवस में खाद्यान्न वितरण के कार्य में सुधार लाने का मौका दिया गया है। बैठक में प्रधानमंत्री शहरी पथ विक्रेता योजना तथा मुख्यमंत्री ग्रामीण पथ विक्रेता योजना की प्रगति की सघन समीक्षा की गई और ऋण प्रकरणों को तत्काल स्वीकृत कर वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत हितग्राहियों को राशि का भुगतान की स्थिति की समीक्षा की गई तथा राशि का तत्काल भुगतान की कार्यवाही करने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायत के सरपंच, सचिव की शिकायतों की तत्काल जांच कर नोटिस दिए जाने के निर्देश दिए। साथ ही एक माह से शिकायत लंबित पाए जाने पर संबंधित का वेतन काटने और विभागीय जांच शुरू करने के निर्देश दिए हैं।
कलेक्टर श्री सिंह ने थांदला में बस स्टैण्ड के लिए स्थल का चिन्हांकन करने के कार्य की समीक्षा की और अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को स्थल का चिन्हांकन शीघ्र करने के निर्देश दिए। उन्होने लोक परिसम्पत्ति प्रबंधन पोर्टल पर परिसम्पत्तियों की जानकारी दर्ज करने के कार्य की विस्तार से समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जिन शासकीय परिसम्पत्तियों पर अतिक्रमण है ऐसी परिसम्पत्तियों को अतिक्रमण से मुक्त कराने की कार्यवाही सुनिश्चित करंेे। साथ ही अविवादित तथा अतिक्रमण से मुक्त परिसम्पत्ति ही पोर्टल पर दर्ज कराएं। उन्होने कहा कि नए भवन होने के बावजूद भी जीर्ण-शीर्ण अवस्था में रहने वाले शासकीय भवनों का उपयोग किए जाने पर नाराजगी जाहिर करते हुए निर्देश दिए हैं कि वे ऐसे जीर्ण-शीर्ण भवनों को तत्काल खाली करें। इस बैठक में प्रधानमंत्री किसान निधि योजना के हितग्राहियों के भौतिक सत्यापन के कार्य की विस्तार से समीक्षा की गई और मेघनगर तथा राणापुर विकास खण्ड को छोड़कर शेष विकास खण्डों में आगामी एक सप्ताह में हितग्राहियों के भौतिक सत्यापन का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।
इस बैठक में विभिन्न मदों में राजस्व वसूली कार्य की तहसीलवार समीक्षा की गई और राजस्व की वसूली में प्रगति कम पाए जाने पर नाराजगी जाहिर की गई। वसूली के लिए शिविर आयोजित कर राजस्व वसूली कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिए हैं। इस बैठक में खाद्य सुरक्षा एवं मानक अधिनियम 2006 के तहत दर्ज 15 प्रकरणों में आरोपित राशि की वसूली कार्य की समीक्षा की कई और आरोपित राशि की वसूली की कार्यवाही तत्काल करने के निर्देश दिए गए। साथ ही खाद्य पदार्थो में मिलावटी मुक्त अभियान के तहत की गई कार्यवाही की विस्तार से समीक्षा की गई और जिले में खाद्य पदार्थों में मिलावट को रोकने के लिए प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं। इस बैठक में गैर आदिवासी साहूकार अधिनियम के तहत की गई कार्यवाही की समीक्षा की गई तथा अनुविभागीय अधिकारियों और तहसीलदारों को अपने-अपने क्षेत्र में इस अधिनियम के तहत कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इस बैठक में मिशन चिरंजीवी के तहत आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाने के कार्य की प्रगति की विस्तृत समीक्षा की गई और कार्ड बनाने के कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिए गए हैं। इस बैठक में जिले में अवैद्ध खनिज उत्खनन तथा परिवहन की रोकथाम के लिए की गई कार्यवाही की समीक्षा की गई और अवैद्ध उत्खनन रोकने के लिए कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।
इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एम.एल.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर श्री एल.एन.गर्ग, डिप्टी कलेक्टर सुश्री ज्योति परते सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी, तहसीलदार मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, मुख्य नगरपालिका अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply