डीएवीवी / अन्य कॉलेज में शिफ्टिंग को लेकर टैगाेर कॉलेज के बीएड छात्र भूख हड़ताल पर, कड़कड़ाती ठंड में बैठकर गुजारी रात

अहिल्या प्रतिमा के समक्ष कड़कड़ाती ठंड में भी छात्र धरने पर बैठे रहे।

अहिल्या प्रतिमा के समक्ष कड़कड़ाती ठंड में भी छात्र धरने पर बैठे रहे।

विवि कुलपति और रजिस्ट्रार ने रात में छात्रों से मुलाकात कर हड़ताल खत्म करने को कहा, लेकिन छात्र नहीं मानेछात्रों ने की कॉलेज की एफिलिएशन तत्काल रद्द कर संचालक पर कार्रवाई की मांग, कुलपति ने बुलाई बैठक

इंदाैर. टैगोर कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ डीएवीवी के नालंदा परिसर में अहिल्या प्रतिमा के सामने सोमवार काे भूख हड़ताल पर बैठे छात्राें का प्रदर्शन मंगलवार को भी जारी है। छात्रों की मांग है कि तत्काल प्रभाव से उन्हें अन्य कॉलेज में शिफ्ट किया जाए। कॉलेज की एफिलिएशन तत्काल रद्द कर संचालक बंटी पारीख पर कार्रवाई की जाए। कड़कड़ाती ठंड में भी रात भर छात्रों का धरना जारी रहा। देर रात विवि कुलपति और रजिस्ट्रार ने छात्रों से मुलाकात की और उन्हें हड़ताल खत्म करने को कहा, लेकिन छात्र मानने के लिए तैयार नहीं हैं।


टैगोर कॉलेज ने छात्रों को बीएड में फर्जी तरीके से एडमिशन दिए। पहले सेमेस्टर की परीक्षा के बाद जब रिजल्ट आया और मार्कशीट मांगी तो प्रबंधन ने इनकार कर दिया। कई दिन बाद भी रिजल्ट नहीं दिया ताे एक छात्र अजय मिश्रा ने जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या का प्रयास किया। मामले की जांच रिपोर्ट के आधार पर शासन ने यूजीसी और एनसीटीए (नेशनल काउंसिल फॉर टीचर्स एजुकेशन) को भी अनुशंसा भेजी कि कॉलेज की मान्यता रद्द कर दी जाए। छात्रों की मांग के बाद कुलपति ने अधिकारियों की बैठक बुलाई है। उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक का कोई नतीजा निकलेगा और छात्र अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल को खत्म करेंगे। शहर में धारा 144 लगी होने से छात्र पांच से अधिक संख्या में भूख हड़ताल पर नहीं बैठे हैं। यूनिवर्सिटी की तरफ से पुलिस को भी छात्रों के भूख हड़ताल पर बैठने के बाद आवेदन दिया गया है। वहीं, कांग्रेस के शहर अध्यक्ष ने भी इस मामले को लेकर कुलपति से मुलाकात की है।

ऑटोनॉमी खत्म करने की मांग
यूजीसी से भी मांग की गई कि कॉलेज कीऑटोनॉमी खत्म करें, लेकिन अब तक निर्णय नहीं हुआ। छात्र प्रतिनिधि विवेक सोनी और अभिनव हार्डिया ने कहा कि भूख हड़ताल तभी खत्म करेंगे जब अन्य कॉलेजों में शिफ्टिंग होगी।

रजिस्ट्रार शर्मा बोले- हड़ताल खत्म करें, जल्द होगा निर्णय
यूनिवर्सिटी की तरफ से रजिस्ट्रार अनिल शर्मा ने छात्रों ने मुलाकात कर कहा कि जल्द उनकी शिफ्टिंग पर निर्णय होगा। छात्र तत्काल भूख हड़ताल खत्म कर दें, क्योंकि शहर में धारा 144 लगी है।

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply