पति द्वारा पत्नी और बेटे पर किया गया प्राण घातक हमला

नर्मदापुरम- नर्मदापुरम निवासी ज्योति बाथम से उसके पति गेरतगंज निवासी वार्ड 10 महेश राठी के द्वारा हत्या के प्रयास से मारपीट की गई    घटना दिनांक 30-06-22 को सुबह 10 बजे के आसपास की है पीडिता ने बताया कि जब वह घर में खाना बना रही थी पति महेश राठी मेरे पुत्र चित्रांश वाथम उम्र-13 वर्ष को एक बंद कमरे हत्या करने के उद्देश्य से लोहे कि राड से मार रहा था | जिसमे बच्चे के सर पर तीन से चार वार किये गए जिससे गंभीर चोट पहुची है बच्चे के चिल्लाने पर मैंने दरवाजा खोला और बीच वचाब किया तब मेरे पति ने मुझे भी लोहे की राड से मारा पीटा जिससे मेरे सर के ऊपर गंभीर चोट आई है और मारते बख्त मेरा पति जोर जोर से कह रहा था कि दोनों को जान से मार दूंगा और मुझसे 10 लाख रूपये मायके से लेकर आने को कहा व् मेरे बच्चे को पढ़ाने कि बजह ये उससे बाल मजदूरी कारखाने में काम करने कि जिद करता रहता है | उन्होंने आगे बताया कि हम दोनों के सर पर राड से किये गए हमले से बेहोश हो गए इसके पश्चात हमको गेरतगंज सरकारी अस्पताल ले जाया गया यंहा पर सुविधाए ना होने के कारण हमको भोपाल रिफर कर दिया गया नर्मदा ट्रामा सेंटर में बेहोशी कि हालत में आ ई सी उ में रखा गया और इसके पश्चात् जो हमें छोड़ने आया था बो भाग खड़ा हुआ मेरे पति भी यंहा पर मुझे देखने तक नहीं आये कल दिनांक 04/7/22 से छुट्टी होने के पश्चात मेरी माँ और भाई के द्वारा नर्मदापुरम निज निवास लाया गया यंहा पर हमने इस सम्बन्ध में थाना गेरतगंज एवं अन्य जगह शिकायत कि गई है गोरतलब है कि इस अक्षय तृतीय पर मेरा विवाह गेरतगंज निवासी महेश राठी के साथ संपन्न हुआ था विवाह के पश्चात से ही वह मुझे और मेरे बच्चे को शारीरक मानसिक यातनाये दे रहे थे स्तिथि गंभीर होने कारण मुझ से चलते नहीं बन रहा है

About जितेंद्र मेहरा-नर्मदापुरम

View all posts by जितेंद्र मेहरा-नर्मदापुरम →

Leave a Reply