प्रधानमंत्री केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के कल आयोजित होने वाले बजट-उपरान्त वेबिनार का उद्घाटन करेंगे निजी क्षेत्र के प्रसिद्ध वक्ता और विशेषज्ञ सहित प्रमुख हितधारक आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन, ई-संजीवनी और टेली-मेन्टल हेल्थ पर विचार-सत्र में हिस्सा लेंगे

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी कल दस बजे प्रातः केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के बजट उपरान्त वेबिनार का उद्घाटन करेंगे। उल्लेखनीय है कि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन, ई-संजीवनी और टेली-मेन्टल हेल्थ कार्यक्रम विषयों पर 1045 बजे से 1350 बजे तक तीन विषयपरक सत्रों का आयोजन किया जायेगा।

वेबिनार का उद्देश्य है स्वास्थ्य सेक्टर में सरकार की विभिन्न पहलों को आगे ले जाने के लिये हितधारकों को संलग्न करना। प्रधानमंत्री का सम्बोधन बजट-उपरान्त वेबिनारों की दिशा निर्धारित कर देगा। वेबिनार में एक पैनल चर्चा होगी, जिसमें स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, नीति आयोग, उद्योग जगत, स्टार्ट-अप, अकादमिक जगत के प्रसिद्ध वक्ता तथा विशेषज्ञ सहित हितधारक हिस्सा लेंगे। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया और केंद्रीय आयुष मंत्री श्री सर्बानन्द सोनोवाल संयुक्त रूप से समापन सत्र की अध्यक्षता करेंगे।

वेबिनार में इन तीन विषयों पर गोष्ठी सत्र चलेंगेः

  1. आयुष्मान भारत डिजिटल मिशनः नीति आयोग के सदस्य डॉ. वीके पॉल इस सत्र का संचालन करेंगे। सत्र के दौरान राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. प्रवीण गेदाम प्रस्तुतिकरण देंगे। इस सत्र में यशोदा अस्पताल की सुश्री उपासना अरोड़ा, नारायण हेल्थ के अध्यक्ष डॉ. देवी शेट्टी, मेट्रोपोलिस लैब की प्रबंध निदेशक सुश्री अमीरा शाह, नैटहैल्थ के अध्यक्ष डॉ. हर्ष महाजन और सीआईआई व आयुर्वेद के श्री राजीव वासुदेवन अपने विचार रखेंगे।
  2. राष्ट्रीय टेली-मेडीसिन पहलें और ई-संजीवनीः  इस सत्र का संचालन पीएचएफआई के अध्यक्ष प्रो. के. श्रीनाथ रेड्डी करेंगे। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव श्री लव अग्रवाल ई-संजीवनी पर प्रस्तुतिकरण देंगे। सत्र में एनएचएम कर्नाटक की प्रबंध निदेशक डॉ. अरुंधति चंद्रशेखर, अपोलो अस्पताल की संयुक्त प्रबंध निदेशक सुश्री संगीता रेड्डी, टाटा मेडिकल एंड डायगॉनिस्टक्स के सीईओ श्री गिरीश कृष्णमूर्ति और टेलीहेल्थ स्टैंडर्ड्स, बीआईएस के अध्यक्ष डॉ. अश्विनी गोयल हिस्सा लेंगे।
  3. टेली मेन्टल हेल्थ कार्यक्रमः निमहांस की निदेशक डॉ. प्रतिमा मूर्ति इस सत्र का संचालन करेंगी और स्वागत वक्तव्य देंगी। एनएचएम के एएस-एंड-एमडी श्री विकाश शील इस विषय पर एक संक्षिप्त प्रस्तुतिकरण देंगे। इस सत्र में यूनिवर्सिटी ऑफ वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया में मनोचिकित्सा के क्लीनिकल प्रोफेसर डॉ. मोहन आइज़क, संगत-अमेरिका/गोवा के विश्व स्वास्थ्य के अनुसंधानकर्ता डॉ. अनन्त भान, पीएचएफआई की उपाध्यक्ष डॉ. प्रीति कुमार, आईआईटी बेगलुरू के प्रोफेसर डॉ. टीके श्रीकान्त और निमहांस के डॉ. किशोर कुमार जैसे दिग्गज हिस्सा लेंगे।

सत्रों की योजना इस तरह बनाई गई है कि हितधारकों के साथ विचार-विमर्श करने का पूरा समय रहेगा। इसका लक्ष्य है घोषणाओं को निर्धारित समय-सीमा के अंदर कार्यान्वित करने के लिये सक्रिय भागीदारी की रूपरेखा तैयार करना। प्रधानमंत्री के सम्बोधन का डीडी न्यूज पर सीधा प्रसारण होगा।

Leave a Reply