बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अंतर्गत अपराजिता कार्यक्रम का हुआ समापन, प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र व शील्ड प्रदान किए 

होशंगाबाद से दिव्या मेहरा की ख़बर। बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजनाअंतर्गत महिला एवं बाल विकास तथा खेल एवं युवा कल्याण विभाग के समन्वय से आयोजित अपराजिता कार्यक्रम का समापन नर्मदा महाविद्यालय में किया गया। अंतर्राष्ट्रीय महिला 8 मार्च से प्रारंभ अपराजिता कार्यक्रम अंतर्गत बालिकाओं को कराटे का प्रशिक्षण रोशनी सोनकर द्वारा 8 मार्च से 25 मार्च तक दिया गया। कार्यक्रम 15 दिवसीय तक चला जिसका शुक्रवार को समापन कर प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र एवं 10 बालिकाओं का प्रतिभा चयन कर सील्ड भी प्रदान की गई। परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास (शहरी) श्रीमती प्रीति यादव ने बताया कि 8 मार्च अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर से  26 मार्च तक बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया।था। इसमे आत्म-रक्षा वाली खेल गतिविधियाँ जूड़ो, कराटे का विशेष प्रशिक्षण खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सहयोग से दिया गया। साथ ही श्रीमती प्रीति यादव ने बताया कि प्रशिक्षण का मुख्य उददेश्य न सिर्फ बालिकाओं को आत्म-रक्षा के तरीके सीखाना है, बल्कि इस क्षेत्र में रूचि रखने वाली बालिकाओं का टेलेंट सर्च भी हो सकेगा। प्रशिक्षण के समापन पर दस प्रतिभाशाली बालिकाओं का चयन किया गया एवं उन प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र व शील्ड प्रदान की गई। इस दौरान कार्यक्रम में परियोजना अधिकारी महिला बाल विकास (शहरी) श्रीमती प्रीति यादव, प्रशिक्षक रोशनी सोनकर, एवं परियोजना श्री पर्यवेक्षक श्रीमती रश्मि वर्मा, श्रीमती मंजू राजपूत, श्रीमती श्वेता पटवा, सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply