शिवराज का कांग्रेस पर हमला: चील-कौओं की तरह प्रदेश को नोंच रही है सरकार

भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
ऐसा राज मप्र ने कभी नहीं देखा
इस वक्‍त जैसा राज मप्र में कांग्रेस सरकार में चल रहा है, वैसा इससे पहले कभी नहीं देखा है. प्रदेश में भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़े जा रहे हैं. भ्रष्‍टाचार में भी हिस्सेदारियां हो रही हैं. कांग्रेस के एक बड़े नेता रेत के उत्खनन में लूट मार मचा रहे हैं. ट्रांसफर और पोस्टिंग में पैसे लिए जा रहे हैं. किस मुंह से सरकार चला रहे हैं ये तो बताएं. प्रदेश अब बर्बाद और तबाह हो चुका है.
भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
सरकार चलने लायक नहीं है
शिवराज ने आगे कहा कि पहले ये तो बताएं कि कौआ कौन है. आंतरिक लोकतंत्र क्या है. क्या आंतरिक लोकतंत्र लूट के लिए होता है. आंतरिक लोकतंत्र वो है जो चुनाव में हो, संगठन में चुनाव हो और पार्टी फोरम पर लोग बात करें. अंदर की सारी बातें बाहर आ रही हैं. अब ये सरकार चलने के काबिल नहीं है. कौन किस को बर्खास्त करें ये समझ ही नहीं आ रहा है. सरकार चला कौन रहा है. ये भी तो नहीं पता है, जिसने पाप नहीं किया हो वो पहला पत्थर मारे. भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
ऐसा राज मप्र ने कभी नहीं देखा
इस वक्‍त जैसा राज मप्र में कांग्रेस सरकार में चल रहा है, वैसा इससे पहले कभी नहीं देखा है. प्रदेश में भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़े जा रहे हैं. भ्रष्‍टाचार में भी हिस्सेदारियां हो रही हैं. कांग्रेस के एक बड़े नेता रेत के उत्खनन में लूट मार मचा रहे हैं. ट्रांसफर और पोस्टिंग में पैसे लिए जा रहे हैं. किस मुंह से सरकार चला रहे हैं ये तो बताएं. प्रदेश अब बर्बाद और तबाह हो चुका है.
भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
हम नहीं कांग्रेस आपस में ही लड़ेंगी
जहां तक हमारी पार्टी का सवाल है. हमने तय किया था कि किसी सरकार को जोड़तोड़ से नहीं गिराएंगे. जोड़ा-तोड़ा बहुमत है तो भी वो सरकार चलाए. कांग्रेसी आपस में भी ही लड़कर मर रहे हैं. सरकार की फजाहीत कराने पर आमदा हैं. अब भाजपा सड़कों पर जनता की लड़ाई लड़ेगी. भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
ऐसा राज मप्र ने कभी नहीं देखा
इस वक्‍त जैसा राज मप्र में कांग्रेस सरकार में चल रहा है, वैसा इससे पहले कभी नहीं देखा है. प्रदेश में भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़े जा रहे हैं. भ्रष्‍टाचार में भी हिस्सेदारियां हो रही हैं. कांग्रेस के एक बड़े नेता रेत के उत्खनन में लूट मार मचा रहे हैं. ट्रांसफर और पोस्टिंग में पैसे लिए जा रहे हैं. किस मुंह से सरकार चला रहे हैं ये तो बताएं. प्रदेश अब बर्बाद और तबाह हो चुका है.
भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
सरकार चलने लायक नहीं है
शिवराज ने आगे कहा कि पहले ये तो बताएं कि कौआ कौन है. आंतरिक लोकतंत्र क्या है. क्या आंतरिक लोकतंत्र लूट के लिए होता है. आंतरिक लोकतंत्र वो है जो चुनाव में हो, संगठन में चुनाव हो और पार्टी फोरम पर लोग बात करें. अंदर की सारी बातें बाहर आ रही हैं. अब ये सरकार चलने के काबिल नहीं है. कौन किस को बर्खास्त करें ये समझ ही नहीं आ रहा है. सरकार चला कौन रहा है. ये भी तो नहीं पता है, जिसने पाप नहीं किया हो वो पहला पत्थर मारे. भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.
ऐसा राज मप्र ने कभी नहीं देखा
इस वक्‍त जैसा राज मप्र में कांग्रेस सरकार में चल रहा है, वैसा इससे पहले कभी नहीं देखा है. प्रदेश में भ्रष्टाचार के सारे रिकॉर्ड तोड़े जा रहे हैं. भ्रष्‍टाचार में भी हिस्सेदारियां हो रही हैं. कांग्रेस के एक बड़े नेता रेत के उत्खनन में लूट मार मचा रहे हैं. ट्रांसफर और पोस्टिंग में पैसे लिए जा रहे हैं. किस मुंह से सरकार चला रहे हैं ये तो बताएं. प्रदेश अब बर्बाद और तबाह हो चुका है.
भोपाल. मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कांग्रेस के सियासी घमासान पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Former Chief Minister Shivraj Singh Chauhan) ने चिंता जाहिर की है. सिंह का कहना है कि प्रदेश में क्या हालात बन गए हैं. कमलनाथ सरकार (Kamal Nath Government) ने बना चारों तरफ हाहाकर की स्थिति बना दी है. सरकार बनने पर उम्मीद थी कि कुछ तो बेहतर करेंगे, लेकिन ऐसा हो नहीं पा रहा है. मैं जनता के लिए चिंतित हूं. बस चिंतित ही नहीं हूं बल्कि मध्य प्रदेश को बर्बाद होते देख मेरे साथ जनता भी परेशान है. जैसा हिसाब-किताब बता रहे हैं वो समझ से परे है. कांग्रेस के मंत्री-विधायक बता रहे हैं कि कौन-कौन सा मंत्री कैसे पैसे खा रहा है और किसके ट्रांसफर में कौन कितने पैसे ले रहा है. कौन पत्थर-गिट्टी लूट रहा है और कौन भ्रष्टाचार कर रहा है.

Leave a Reply

%d bloggers like this: