सीएम केजरीवाल को कोर्ट से झटका, पुनर्विचार याचिका खारिज

नई दिल्ली दिल्ली चुनाव के बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को झटका लगा है। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर बनिया, मुस्लिम और पूर्वांचली समाज के 30 लाख लोगों के नाम वोटर लिस्ट से कटवाने का आरोप लगाने के मामले में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने आदेश बदलने से मना किया। इसका मतलब केजरीवाल की पुनर्विचार याचिका को कोर्ट ने खारिज कर दिया। इससे पहले राउज एवेन्यू कोर्ट ने बीजेपी नेता राजीव बब्बर की तरफ से दाखिल मानहानि याचिका पर सुनवाई करते हुए केजरीवाल, आतिशी और सुशील गुप्ता को मुकदमे का सामना करने और अपने आरोप साबित करने को कहा था। आम आदमी पार्टी की ओर से अरविंद केजरीवाल ने दिसंबर 2018 में यह आरोप लगाया था कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दिल्ली में 30 लाख वोटर्स का नाम वोटर लिस्ट से कटवा दिया। इसमें अग्रवाल समाज के 4 लाख वोटर्स, पूर्वांचल के 15 लाख वोटर्स, 8 लाख मुस्लिम वोटर्स और 3 लाख दूसरे वोटर्स हैं। इस आरोप के बाद बीजेपी ने पिछले साल 21 जनवरी को पटियाला हाउस कोर्ट में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया था। भाजपा के नेता राजीव बब्बर ने पटियाला हाउस कोर्ट में मानहानि का मुकदमा दराया है। साथ ही भारतीय जनता पार्टी की लीगल टीम के अलावा दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी और बीजेपी विधायक विजेंद्र गुप्ता ने मुख्य चुनाव आयोग से मुलाकात की और उनसे इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ शिकायत की थी।

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply