हलफल नदी में अवैध रेत खनन रोकने ग्रामीणों ने शुरू किया आमरण अनशन

मोहनी और कुठिया मंहगवां गांव के लोग अनशन पर बैठे, कहा बंद हो नदी में रेत का अवैध खनन

illegal mining of sand

कटनी. बरही, बड़वारा क्षेत्र में रेत के अवैध खनन पर अंकुश लगाने में प्रशासन की नाकामी के बाद सोमवार को गांव के लोग आमरण अनशन पर बैठ गए। अनशन पर बैठे मोहनी और कुठिया महगवां के ग्रामीणों ने बताया कि हलफल नदी में ताली रोहनिया, छिंदहाई पिपरिया गांव के समीप रेत का अवैध खनन खुलेआम चल रहा है। इसकी शिकायत कई बार तहसीलदार से लेकर कलेक्टर और टीआइ से लेकर एसपी तक से की गई, लेकिन अवैध खनन का सिलसिला थम नहीं रहा है। पहले दिन अनशन पर बैठे शीतल पटेल (77), कोदू लाल (60), झल्लू लाल (70) और सहयोगी लल्ली पटेल, मोहन सिंह, गरीब दास, मिलभान सिंह, राजेंद्र प्रसाद, दयाली साहू, उजीन सिंह, ओंकार सिंह और गोरेलाल ने बताया कि नदी पर रेत का अवैध खनन रुकने तक अनशन जारी रहेगा।


बहिरघटा-कुम्हरवारा में जेसीबी से खनन:
बड़वारा क्षेत्र के बहिरघटा और कुम्हरवारा में खुलेआम मशीन लगाकर रेत का अवैध किया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि यहां रात में मशीन से खनन के बाद निश्चित स्थान पर भंडारण किया जा रहा है। प्रतिदिन डेढ़ से दो सौ ट्रक रेत का अवैध परिवहन किया जा रहा है। स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार कुम्हरवारा रेत खदान विभाग से पंचायत को आबंटित है, लेकिन ठेकेदार द्वारा यहां मनमाना खनन करवाया जा रहा है।

नहीं है भंडारण की अनुमति, फिर भी कार्रवाई नहीं:
जिले में रेत भंडारण के लिए किसी को भी अनुमति जारी नहीं हुई है। आरोप है कि रेत माफिया द्वारा जगह-जगह मनमान रेत का भंडारण किया जा रहा है। इस पर जानकारी के बाद भी जिम्मेंदार विभाग के अधिकारी-कर्मचारी कार्रवाई नहीं कर रहे हैं।

टाइगर रिजर्व के बफर जोन मेंं अवैध खनन, अफसरों पर उठ रहे सवाल:
बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व के बफर क्षेत्र से लगे कटनी जिले के समीपी जाजागढ़ के टिटही नदी से प्रतिदिन 50 टै्रक्टर से ज्यादा रेत का अवैध खनन किया जा रहा है। ग्रामीणों ने बताया कि यहां पर टाइगर रिजर्व का कर्मचारी ही रेत का अवैध खनन करवा रहे हंै। इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से करने के बाद भी कार्रवाई नहीं होने पर कार्यशैली पर सवाल उठ रहे हैं। हालांकि इस संबंध में टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर विसेंट रहीम मामले का पता लगवाकर कार्रवाई की बात कह रहे हैं।

वर्जन
रेत के अवैध खनन को लेकर ग्रामीणों द्वारा अनशन पर बैठने की जानकारी नहीं है। मंगलवार को पता करवाते हैं। जरुरी कार्रवाई की जाएगी।
संतोष सिंह प्रभारी खनिज अधिकारी कटनीillegal mining of sand katni latest news 

About डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश

View all posts by डीजी न्यूज़ मध्य प्रदेश →

Leave a Reply