राम जेठमलानी को पीएम मोदी ने किया याद, कहा- उनके काम हमेशा मौजूद रहेंगे

नई दिल्ली. सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के वरिष्ठ वकील रहे राम जेठमलानी (Ram Jethmalani) का रविवार सुबह निधन हो गया. जेठमलानी के बेटे महेश ने जानकारी दी कि वह बीते कुछ महीनों से बीमार थे. उनका अंतिम संस्कार रविवार शाम लोधी रोड स्थित श्मशान घाट पर होगा.

जेठमलानी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ( Vice President M. Venkaiah Naidu), प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi), भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) और कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी समेत कई अन्य ने शोक व्यक्त किया.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि ‘पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ वकील श्री राम जेठमलानी के निधन से मुझे दुख हुआ है. वे अपनी विशिष्ट वाक्पटुता के साथ सार्वजनिक मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त करने के लिए जाने जाते थे. राष्ट्र ने एक प्रतिष्ठित न्यायविद्, विद्वान अधिवक्ता और बुद्धिकौशल का धनी व्यक्तित्व खो दिया है.’

President of India@rashtrapatibhvn

पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ वकील श्री राम जेठमलानी के निधन से मुझे दुख हुआ है। वे अपनी विशिष्ट वाक्पटुता के साथ सार्वजनिक मुद्दों पर अपने विचार व्यक्त करने के लिए जाने जाते थे। राष्ट्र ने एक प्रतिष्ठित न्यायविद्, विद्वान अधिवक्ता और बुद्धिकौशल का धनी व्यक्तित्व खो दिया है।4,93410:55 AM – Sep 8, 2019Twitter Ads info and privacy575 people are talking about this

उपराष्ट्रपति ने कहा- यह मेरी व्यक्तिगत क्षति
उपराष्ट्रपति एम वैंकेया नायडू ने कहा कि ‘ राम जेठमलानी का निधन मेरी व्यक्तिगत क्षति है. मैंने अपना मित्र और निकट सहयोगी खो दिया है. ईश्वर उन्हें आशीर्वाद दें और हम सबको यह दुःख वहन करने के लिए धैर्य दें.’

VicePresidentOfIndia@VPSecretariat

श्री राम जेठमलानी का निधन मेरी व्यक्तिगत क्षति है। मैंने अपना मित्र और निकट सहयोगी खो दिया है। ईश्वर उन्हें आशीर्वाद दें और हम सबको यह दुःख वहन करने के लिए धैर्य दें। #RamJethmalani

View image on Twitter

3009:47 AM – Sep 8, 2019Twitter Ads info and privacy42 people are talking about this

हमेशा मौजूद रहेंगे जेठमलानी के काम: पीएम मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘ राम जेठमलानी जी के निधन से भारत ने एक असाधारण वकील और प्रतिष्ठित सार्वजनिक व्यक्ति को खो दिया है, जिन्होंने न्यायालय और संसद दोनों में समृद्ध योगदान दिया है. वह मजाकिया, साहसी और कभी भी किसी भी विषय पर साहसपूर्वक बात व्यक्त करने से नहीं कतराते थे.’

उन्होंने लिखा- ‘ राम जेठमलानी जी के सबसे अच्छे पहलुओं में से एक उनमें मन की बात कहने की क्षमता थी और उन्होंने बिना किसी डर के ऐसा किया. आपातकाल के काले दिनों के दौरान, उनकी स्वतंत्रता और सार्वजनिक स्वतंत्रता के लिए लड़ाई को याद किया जाएगा. जरूरतमंदों की मदद करना उनके व्यक्तित्व का एक अभिन्न हिस्सा था.’

पीएम मोदी ने लिखा, ‘मैं खुद को सौभाग्यशाली मानता हूं कि मुझे राम जेठमलानी जी के साथ बातचीत करने के कई अवसर मिले.इन दुखद क्षणों में, उनके परिवार, दोस्तों और कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदना. वह यहाँ नहीं होंगे लेकिन उनके काम मौजूद रहेंगे. शांति!.’

Narendra Modi@narendramodi · 3hReplying to @narendramodi

One of the best aspects of Shri Ram Jethmalani Ji was the ability to speak his mind. And, he did so without any fear. During the dark days of the Emergency, his fortitude and fight for public liberties will be remembered. Helping the needy was an integral part of his persona.

Narendra Modi@narendramodi

I consider myself fortunate to have got numerous opportunities to interact with Shri Ram Jethmalani Ji. In these sad moments, my condolences to his family, friends and many admirers. He may not be here but his pioneering work will live on! Om Shanti.10.9K9:49 AM – Sep 8, 2019Twitter Ads info and privacy1,439 people are talking about this

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने प्रख्यात अधिवक्ता राम जेठमलानी के निधन पर रविवार को शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके देहांत से भारत ने प्रतिष्ठित न्यायविद, सक्षम प्रशासक और अनुभवी सांसद को खो दिया. सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा, ‘राम जेठमलानी के निधन पर गहरी संवेदनाएं। उनके निधन से भारत ने प्रतिष्ठित न्यायविद, सक्षम प्रशासक और अनुभवी सांसद को खो दिया है.’

वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी जेठमलानी को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, ‘राम जेठमलानी जी का निधन पूरे कानूनी समुदाय के लिए एक अपूरणीय क्षति है. कानूनी मामलों पर उनके विशाल ज्ञान के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा. शोक संतप्त परिवार के प्रति मेरी संवेदना.’

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जेठमलानी के निधन पर शोक जताया है. उन्होंने कहा ‘अनुभवी वकील और पूर्व कानून मंत्री राम जेठमलानी के निधन पर गहरा दुख है. उनकी प्रतिभा, वाक्पटुता, शक्तिशाली वकालत और कानून की ध्वनि समझ कानूनी पेशे में एक योग्य उदाहरण बनी रहेगी.’

कांग्रेस नेता सोनिया गांधी ने भी जेठमलानी के निधन पर दुख व्यक्त किया. कांग्रेस ने कहा कि ‘कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी के निधन पर शोक व्यक्त किया है.’

अरविंद केजरीवाल ने किया नमन

वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी जेठमलानी के शोक जताया है. उन्होंने लिखा – ‘प्रसिद्ध वकील राम जेठमलानी जी के निधन पर अत्यंत दुख हुआ. अपने आप में एक संस्था, उन्होंने स्वतंत्रता के बाद के भारत में क्रिमिनल लॉ को आकार दिया. उनका शून्य कभी नहीं भर पाएगा और उनका नाम कानूनी इतिहास में सुनहरे शब्दों में लिखा जाएगा.’

वरिष्ठ वकील और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा – ‘राम जेठमलानी अब नहीं रहे. कानून और राजनीति दोनों में एक धर्मयुद्ध वह लगातार उन कारणों के लिए खड़े रहे  जो उन्होंने उठाए थे. क्रिमिनल लॉ में उनका कोई सानी नहीं था. कांग्रेस नेता और वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने लिखा कि – ‘राष्ट्र ने एक महान पुत्र को खो दिया है. उनकी आत्मा को शांति मिले. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जेठमलानी के निधन पर शोक व्यक्त किया.

लालू प्रसाद ने दी श्रद्दांजलि
राजद नेता तेजस्वी यादव ने लिखा कि ‘देश के वरिष्ठतम अधिवक्ता, पूर्व क़ानून मंत्री और राजद से राज्यसभा सांसद आदरणीय श्री राम जेठमलानी जी के निधन पर शोक प्रकट करता हूँ। भगवान उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे.’

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने लिखा कि – ‘राजद के राज्यसभा सांसद, मशहूर प्रखर अधिवक्ता, पूर्व क़ानून मंत्री आदरणीय श्री राम जेठमलानी जी के निधन के दुखद समाचार से आहत हूँ.  उनके निधन पर शोक संवेदना प्रकट करती हूँ. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति एवं परिजनों को दुख सहने की शक्ति प्रदान करे.’

लालू प्रसाद यादव ने लिखा कि ‘पूर्व कानून मंत्री श्री राम जेठमलानी के निधन से दुखी हूं. वह स्वयं में एक संस्था थे. उनका निधन राष्ट्र और कानूनी बंधुत्व के लिए एक बड़ी क्षति है.  उन्हें श्रद्धांजलि और परिवार के प्रति संवेदना. उनकी आत्मा को शांति मिले!.’

येचुरी ने कहा-

मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी नेता येचुरी ने ट्वीट किया, ‘राम जेठमलानी के निधन से गहरे शोक में हूं। वह मेरे प्रिय मित्र, साथी सांसद और न्याय जगत के प्रतिष्ठित व्यक्ति थे। मैं उनके परिवार, मित्रों और प्रशंसकों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं.’

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s