लीड काॅलेज में इतने प्रवेश दे दिए कि किसी दिन आधे स्टूडेंट्स भी पढ़ने आ गए तो बैठा नहीं पाएंगे

जेएच कॉलेज में यूजी की संकायाें में सीटें बढ़ाकर कमराें की क्षमता से तीन गुना विद्यार्थियों को प्रवेश दिया है।…

Betul News - mp news admitted to the lead college so much that even if half the students come to study they will not be able to sit

जेएच कॉलेज में यूजी की संकायाें में सीटें बढ़ाकर कमराें की क्षमता से तीन गुना विद्यार्थियों को प्रवेश दिया है। कॉलेज के 48 कमराें में तीन हजार विद्यार्थियों के बैठने की क्षमता है, लेकिन काॅलेज में नए अाैर पुराने प्रवेशी विद्यार्थी करीब 8500 हैं। यदि पूरे छात्र कॉलेज आ गए तो बैठना तो दूर, खड़े रहने की जगह भी नहीं रहेगी। एेसे में विद्यार्थियों के बैठने के लिए कमरे कम पड़ रहे हैं इसलिए काॅलेज प्रबंधन ने किसी भी संकाय के अलग-अलग सेक्शन नहीं बनाए हैं। यदि किसी भी संकाय के आधे विद्यार्थी अा जाएं ताे उनके बैठने की व्यवस्था ही नहीं है। इस कारण प्रवेश लेने के बाद विद्यार्थी काॅलेज में नहीं अा रहे हैं।

अब प्रबंधन के सामने इन विद्यार्थियों को एक साथ कक्षाओं में बैठाना की समस्या है। सबसे अधिक परेशानी बीए में अा रही है। काॅलेज प्रबंधन ने बीए के दाे सेक्शन बनाए हैं, लेकिन एक सेक्शन में 400 विद्यार्थी हैं। कॉलेज के जिस कमरे में बीए की कक्षाएं संचालित की जा रही है, उसकी क्षमता 150 विद्यार्थियों के बैठने की है। यदि सभी विद्यार्थी कॉलेज आ जाए तो एक सेक्शन में 250 विद्यार्थियों को बाहर बैठना पड़ेगा। यानि दाे सेक्शन के 500 विद्यार्थी बाहर रहेंगे।

आगे क्या :135 दिन शेष, 100 दिन लग पाएंगी कक्षाएं, गाइडलाइन के अनुसार 180 दिन कक्षाएं लगाना अनिवार्य

बीएससी बाॅयाे : 140 बैठने की क्षमता, कमरे में दर्ज 443 विद्यार्थी

बीएससी बॉयो में 443 व बीएससी गणित में 333 विद्यार्थी होने के बाद भी अब दोनों संकाय में सेक्शन नहीं बनाए हैं। बैठने की व्यवस्था नहीं होने के कारण विद्यार्थियों की उपस्थिति बहुत कम है। वहीं कक्षाएं संचालित नहीं होने से अप्रैल में विद्यार्थियों को बिना कोर्स पूरा किए परीक्षा देनी होगी।

दिसंबर में पीजी की परीक्षा, नहीं लगेंगी यूजी की कक्षाएं

कॉलेज में दिसंबर माह में पीजी की सेमेस्टर परीक्षाएं होना है। जेएच कॉलेज के परीक्षा केंद्र में अन्य सरकारी कॉलेज व प्राइवेट विद्यार्थी शामिल होते हैं। ऐसे में कॉलेज के कमरों में परीक्षा संचालित होने से यूजी की कक्षाएं नहीं लगेंगी। मार्च में यूजी की कक्षाओं का प्रायोगिक परीक्षा होने से कक्षाएं नहीं लग पाएंगी।

बैतूल। इस डेढ़ सौ की बैठक क्षमता वाले क्लास रूम के िलए दर्ज हंै 400 स्टूडेंट्स।

2258 विद्यार्थियों यूजी में को दिया प्रवेश

कॉलेज में यूजी की प्रथम वर्ष की कक्षाओं में 2258 विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। इसमें बीए में 789, बीकॉम 432, बीएससी गणित 333 व बायों में 443 छात्र-छात्राओं ने प्रवेश लिया है। लेकिन अब तक सिर्फ बीए में दो सेक्शन बनाए हैं। बीएससी गणित 333 व बायो 443 व बीकॉम में 432 विद्यार्थी होने के बाद भी अब तक सेक्शन नहीं बनाए हैं। इस कारण छात्र-छात्राअाें काे एक साथ कक्षाओंं में बैठना भी मुश्किल होता है। इसके कारण उपस्थिति में भी लगातार कम हो रही है।

चार माह की देरी से पिछड़ा सेकंड इयर का कोर्स

कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया में देरी के कारण यूजी प्रथम वर्ष का तीन माह व परीक्षा परिणाम आने में देरी के कारण सेकंड इयर की कक्षाओं का चार माह कोर्स पिछड़ चुका है। नवंबर तक परीक्षा परिणाम आने के कारण सेकंड इयर में अब तक प्रवेश प्रक्रिया चल रही है। ऐसे में सेकंड इयर का कोर्स पूरा नहीं हो पाएगा। विद्यार्थियों को बिना कोर्स पूरा किए बिना ही परीक्षाएं देने पड़ेगी।

कोर्स पूरा होना मुश्किल, बिना पढ़ाई परीक्षा देंगे विद्यार्थी

उच्च शिक्षा विभाग की गाइड लाइन के अनुसार 180 दिन कक्षाएं लगाना अनिवार्य है, लेकिन सितंबर तक कॉलेज में प्रवेश प्रक्रिया चलती रही। इस वर्ष पहले प्रवेश प्रक्रिया में देरी के कारण शैक्षणिक सत्र पहले ही तीन माह पिछड़ चुका है। परीक्षा को सिर्फ 135 दिन शेष रह गए हैं। इसमें त्योहारों व पीजी की परीक्षा की छुट्टी के कारण 100 दिन ही कक्षाएं लग पाएगी। ऐसे में कॉलेज में कोर्स पूरा हो पाना मुश्किल दिखाई दे रहा है।

एबीवीपी छात्र हित में करेंगी आंदोलन

विद्यार्थियों की समस्याओं को लेकर एबीवीपी आंदोलन करेगी। अभाविप के जिला संयोजक नीलेश गोस्वामी ने बताया कॉलेज में इस वर्ष अब तक सेक्शन नहीं बने है। इससे विद्यार्थियों का नुकसान हो रहा है। सेकंड इयर का परीक्षा परिणाम आने में 4 माह की देरी के कारण अब तक सेकंड इयर में प्रवेश चल रहे हैं। इस कारण कोर्स पूरा नहीं होने से विद्यार्थियों को नुकसान होगा। यदि अतिरिक्त कक्षाएं लगाकर कोर्स पूरा नहीं कराया गया तो एबीवीपी छात्र हित में आंदोलन करेगी।

डिमांड आने पर सेक्शन बनाएंगे

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s