एक साल बाद छापेमारी: तीन संस्थान से 24 घरेलू गैस सिलेंडर जब्त किए

घरेलू गैस की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ एक साल बाद खाद्य विभाग ने छापेमारी की। शहर में तो जानकारी होने के…

Bilaspur News - chhattisgarh news raid a year later 24 domestic gas cylinders seized from three institutes

Jan 16, 2020, घरेलू गैस की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ एक साल बाद खाद्य विभाग ने छापेमारी की। शहर में तो जानकारी होने के बावजूद खाद्य अमला कार्रवाई नहीं कर रहा था। बुधवार को अचानक छापेमारी करते हुए साइकिल स्टोर सहित तीन संस्थान से 24 घरेलू गैस सिलेंडर जब्त किया। पुराने बस स्टैंड में होने वाली गैस की कालाबाजारी किसी से नहीं छिपी है। पर इन सिलेंडर बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने से खाद्य अमला बचता रहता है। यहीं वजह है कि एक साल से इन संस्थानों में जांच नहीं की। बुधवार को खाद्य विभाग की टीम ने पुराने बस स्टैंड में एसके इंटरप्राइजेस मालिक इंद्रपाल सिंह के यहां छापेमारी कर 4 सिलेंडर, वहीं पर नसीम साइकिल स्टोर मालिक नसीम खान के यहां से 12 सिलेंडर तो राजीव प्लाजा के सामने स्थिति शारदा भोजनालय मालिक शिव कुमार पांडेय के यहां से 8 सिलेंडर जब्त किया। इस तरह कुल 24 सिलेंडर जब्त किए गए और सभी को अभिनव गैस एजेंसी के सुपुर्द किया गया। वहीं संस्थान के मालिकों के खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत केस दर्ज किया। छापेमारी टीम में खाद्य निरीक्षक अजय मौर्य, वसुधा राजपूत, वर्षा सिंह और अब्दुल कादिर खान शामिल थे। दिल्ली से आने वाली पांच लीटर वाली लाल टंकियां अवैध है। इसका उपयोग नहीं किया जा सकता लेकिन खाद्य अमले ने गुरुनानक ऑटोमोबाइल की दुकान से जब्त नहीं किया। वहीं दो और दुकानों में भी लाल टंकियां बगैर अनुमति के बेची जा रही है। दरअसल ये दुकानदार गैस रिफिलिंग का धंधा करते हैं। 14.5 किलो वाले घरेलू सिलेंडर से गैस निकालकर छोटी टंकी में डालकर बेचते हैं। कुल मिलाकर एक साल बाद विभाग ने आधी अधूरी कार्रवाई की।

खाद्य अमले ने की कार्रवाई।

एएफओ के पैर पर पटक दिया था सिलेंडर

एसके इंटरप्राइजेस के बाजू में स्थित पांडेय किराना दुकान में छापेमारी नहीं की गई। दरअसल यहां पूर्व में छापेमारी के दौरान तत्कालीन एएफओ देवेंद्र बग्गा के पैर में जानबूझकर सिलेंडर गिरा दिया गया था। इस घटना से अधिकारी दहशत में हैं। हालांकि सिलेंडर किसने पटका यह खुद बग्गा नहीं बता सके पर फिर लंबी छुट्‌टी में चले गए। स्टेट बैंक के पास एक दुकान में घरेलू गैस सिलेंडर बिकता है लेकिन उसके खिलाफ भी कोई केस नहीं बनाए जाने से खाद्य अमला संदेह में घिर गया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s