अपराध / खिलौनों की आड़ में बेच रहे थे इंपोर्टेड सिगरेट, दो दुकानों पर छापामार कार्रवाई

पुलिस ने सैकड़ों सिगरेट जब्त कर लीं, यहां क्ले पाइप और हुक्का तंबाकू भी पुलिस को मिला

भोपाल। इंपोर्टेड विदेशी सिगरेट बेचने वाले दो चचेरे भाइयों को क्राइम ब्रांच ने पकड़कर 40 अलग-अलग ब्रांड की सैकड़ों सिगरेट जब्त की हैं। इस छापे की जानकारी पुलिस ने कस्टम विभाग को भी दे दी है। पुलिस को शक है कि कस्टम ड्यूटी से बचने के लिए आरोपी स्मगलिंग का माल मुंबई के तस्करों से उठाते थे।

एएसपी निश्चल झारिया के मुताबिक सटीक सूचना के बाद क्राइम ब्रांच की टीम ने लालवानी प्रेस रोड स्थित दो दुकानों पर छापा मारा था। सुपर कलेक्शन और सोनी गिफ्ट सेंटर नाम से संचालित इन दुकानों में खिलौने बेचे जाते हैं। अंदर जाकर देखा तो यहां इंपोर्टेड विदेशी सिगरेट के 40 अलग-अलग ब्रांड रखे मिले। पुलिस ने सैकड़ों सिगरेट जब्त कर लीं। यहां क्ले पाइप और हुक्का तंबाकू भी पुलिस को मिला। सुपर कलेक्शन गौरव भटेजा का है, जबकि सोनी गिफ्ट सेंटर उसके चचेरे भाई सुनील भटेजा का है। दोनों ग्रीन एकड़, लालघाटी के रहने वाले हैं। पूछताछ में आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वे दिल्ली-मुंबई से ये सिगरेट ट्रांसपोर्ट के जरिए भोपाल मंगवाते थे। फिर उन्हें गुमठियों पर बेच दिया जाता था। पुलिस ने इस कार्रवाई की सूचना कस्टम विभाग को भी दे दी है।

भानपुर के पास से जब्त किए सबमर्सिबल पंपसेट
विदिशा रोड स्थित भानपुर के पास एक हार्डवेयर दुकान पर ऊषा और वी-गार्ड कंपनी के नाम पर लोकल सबमर्सिबल पंपसेट बेचे जा रहे थे। इस सूचना के बाद छापा मारकर क्राइम ब्रांच ने 16 नग पंपसेट जब्त किए हैं। बगैर बिल दिए इन्हें किसानों को बेचा जाता था। पुलिस ने दुकानदार पंचवटी कॉलोनी, फेस-2 करोंद निवासी 31 वर्षीय मनोज साहू के खिलाफ कॉपी राइट एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। ये पंपसेट वह गुजरात से मंगवाकर असल से थोड़ा कम दाम में बेचता था।