बरसाती पानी को जमीन में उतारने के लिए केरल-पंजाब की तर्ज पर कलेक्टाेरेट में खुदवाए 2 कु

केरल और पंजाब की तर्ज शहर में नगर पालिका ने दाे कुओं और सीमेंटेड नाली वाला एक बड़ा रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनवाया है। यह प्रयोग कलेक्टोरेट में किया गया है। बारिश में कलेक्टाेरेट परिसर से बहकर आने वाला पानी इस बड़े रेन वाटर सिस्टम में स्टाेर हाेगा, इससे भूजलस्तर ताे बढ़ेगा, बाेर रिचार्ज हाे सकेंगे। 8 लाख रुपए से बनाई यह संरचना अंतिम चरण में है। अब इसमें पानी बचाया जा सकेगा। बारिश सीजन में इसमें करीब 8 कराेड़ लीटर पानी जमीन में जाएगा। अब तक नगर पालिका शहर के भवनाें में सिंगल प्लास्टिक पाइप और एक छाेटे गड्ढे वाला रेन वाटर सिस्टम लगाती थी, लेकिन अब बड़े सिस्टम लगाने शुरू कर दिए हैं।

कलेक्टाेरेट परिसर के भवन और सीमेंटेड परिसर से निकलने वाले पानी काे पूरी तरह साफ करके जमीन में भेजने के लिए यह सिस्टम बनाया गया है। इसमें सीमेंटेड नालियों से पानी छानने के बाद 9 फीट गहरे कुओं में जाएगा। कुुुुओं में किए गए बोर भी रिचार्ज होंगे। रेन वाटर के ऐसे बड़े सिस्टम का पंजाब और केरल में चलन में हैं। इंजीिनयर नीरज धुर्वे ने बताया कलेक्टोरेट के नीचे ढलान में जिला पंचायत के पास सिस्टम बनाया है।

दो कुएं बनाए हैं, इनके बीच किए हैं बोर

नगर पालिका ने 9 फीट गहरे दो छोटे कुएं बनवाए हैं। इनमें रेत, बजरी और बोल्डर डाले जाएंगे। इनके बीच में 170 फीट गहरे बोर करवाए गए हैं। बारिश का पानी बहकर इन कुओं में आएगा। इससे बोर भी रिचार्ज होंगे।

नपा द्वारा बनाया जा रहा वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम।

कुओं और सीमेंटेड नाली वाला बड़ा रेन वाटर सिस्टम बनकर तैयार

87 हजार वर्गफीट का परिसर है, प्रति 1 हजार वर्गफीट 9 लाख लीटर पानी उतरेगा बारिश में

सब इंजीनियर नगेंद्र वागद्रे ने बताया कलेक्टोरेट भवन के नीचे ढलान की ओर जिला पंचायत के सामने यह सिस्टम लगाया है। कलेक्टोरेट भवन की छत और उसके आसपास 87 हजार वर्गफीट जमीन है। इस जमीन का पूरा पानी बारिश के समय बहकर निकल जाता है। जिला पंचायत के सामने जिस जगह से यह पानी बहकर वेस्ट हो जाता है, वहीं पानी के बहाव की जगह पर यह सिस्टम बनाया है। आमतौर पर एक औसत बारिश सीजन में एक हजार स्क्वेयर फीट की छत से 9 लाख लीटर पानी जमीन में जाता है। इस तरह 87 हजार वर्गफीट पक्की जमीन का लगभग 7 कराेड़ 83 लाख लीटर पानी जमीन में जाएगा

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s