सोशल मीडिया पर दोस्ती कर धोखाधडी कर मडिला से 71 लाख रुपये ठगने वालों की टीम का आईवीरियन आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार

भोपाल : दिनांक 10 फरवरी 2020- पुलिस उप महानिरीक्षक भोपाल शहर श्री इरशाद वली द्वारा सायबर अपराधो में संलिप्त अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के संबंध में दिये गये निर्देशो के पालन में सायबर क्राइम ब्रांच भोपाल की टीम द्वारा सोशल मीडिया पर दोस्ती कर महिला से करीबन 71 लाख रुपये ठगने वालों की टीम में से एक आईवीरियन आरोपी को गिरफ्तार किया गया हैं।

घटनाक्रमः. आवेदक नरेश मुदगल पिता आरण्एण् मुदगल उम्र 45 साल निवासी इन्द्रपुरी भोपाल ने एक शिकायत आवेदन पत्र प्रस्तुत किया कि मेरी बहन प्रीति शर्मा पत्नी अमित शर्मा से एक विदेशी व्यक्ति ने सोशल मीडिया के माध्यम से दोस्ती की और उसे पार्सल द्वारा एक करोड़ रुपये का कीमती तोहफा भेजने का बहाना किया। मेरी बहन पार्सल भेजने बाले व पार्सल डिलेवर करने बाले दो अज्ञात व्यक्तियों के झांसे में आ गई और उस पार्सल को प्राप्त करने के लिये पार्सल डिलेवरी चार्जए एन्टी मनी लॉण्डरिंग फीसए एण्टी टेररिज्म सर्टिफिकेटए टेक्स आदि के नाम पर 13 अलग.अलग बैंक खातों में करीबन 71लाख रुपये की राशि जमा करा दी। बाद में उन व्यक्तियों द्वारा अपने मोबाईल फोन आदि बंद कर दिये। आवेदक द्वारा प्रस्तुत की शिकायत जांच के दौरान बैंक खातोंए अनावेदकों के मोबाईल नंम्बरों की व अन्य तकनीकी जानकारियां प्राप्त की गई है। सभी 13 बैंक खातों व मोण्नण् के उपयोगकर्ताओं के द्वारा प्रथम दृष्टया अपराध घटित किया जाना पाया जाने से अपण्क्रण् 190ध्19 धारा 420, 120बी भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस कार्यवाही- सायबर क्राइम ब्रांच भोपाल की टीम के उनि सुनील रघुवंशी, प्रधान आरक्षक पी. चिन्नाराव,आर. रिषीकेश त्यागी, आर.राधेश्याम, आर. जावेद खान की लगन व महनत से प्रकरण के अन्य आरोपी जोसेफ डायजो पिता जॉन नोको उम्र 30 साल नि. स्थाई आविद्जान ;आईवॉरियन (रिपब्लिक कोट डिवायर) हाल नि. 1.ए पॉकेट बी.66, ओमिक्रोन, ग्रेटर नोएडा थाना कासना गौतम बुद्ध नगर उप. को दिल्ली से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। उक्त अपराध के मास्टरमाईण्ड आरोपी अबूह मारवलस उच पिता अबूह उम्र 23 वर्ष नि. हाल निहार विहार दिल्ली स्थाई निवासी नाईजीरिया को पूर्व में ही गिरफ्तार किया जा चुका है।

तरीका वारदातः. आरोपियों की टीम का एक सदस्य विदेशी नागरिक बन शादीशुदा महिलाओं से सोशल नेटवर्किंग साईट्स फेसबुक व व्हाट्सएप के माध्यम से महिलाओ से गहरी दोस्ती करते हैं बाद उन्हें अपने पूर्ण विश्वाश में लेकर वह व्यक्ति महिला को यह विश्वाश दिलाता है कि वह महिला को कोई कीमती गिफ्टध्बड़ी रकम पार्सल के माध्यम से भेज रहा है। बाद टीम का दूसरा सदस्य महिला को व्हाट्सएप व कॉल के माध्यम से यह बताता है कि वह डिलेवरी एजेंट है। डिलेवरी एजेंट बनकर वह व्यक्ति एक देश से दूसरे देश पार्सल डिलेवर करने का बहाना करता है। उसके पश्चात वह स्वयं को एक देश के एयरपोर्ट बाद दूसरे देश के एयरपोर्ट पर द्वारा यह कहकर पकड़े जाना बताता है कि उसे यह नहीं बताया गया था कि पार्सल में इतना कीमती गिफ्ट है इस कारण डिलेवरी एजेंट कस्टम ऑफिसियल द्वारा पकड़े जाने का बहाना बनाता है। इस दौरान डिलेवरी एजेंट महिला से डिलेवरी चार्जए दोनों देशों में लगने बाला टैक्सए एन्टी मनी लॉन्डरिंग सर्टिफिकेटए एन्टी टेररिज्म सर्टिफिकेट व अन्य कई बहानों से महिला से मोटी रकम बैंक एकाउण्ट्स में जमा करवा लेता है। इस दौरान डिलेवरी एजेंट महिला को यह कहकर डराता है कि यदि उसने राशि जमा नहीं कि तो पार्सल भेजने व प्राप्त करने बाले व्यलि को एन्टी मनी लॉन्डरिंग एक्ट व एन्टी टेररिज्म एक्ट में जेल जाना पडेगा। इस प्रकार वह तब तक महिला से अलग अलग बहाने से रुपयों की मांग करते हैं जब तक कि महिला रुपये देना बंद नहीं करती।

आरोपी का विवरण-

1 -आरोपी जोसेफ डायजो पिता जॉन नोको उम्र 30 साल नि. स्थाई आविद्जान ;आईवॉरियन (रिपब्लिक कोट डिवायर) हाल नि. 1.ए पॉकेट बी.66, ओमिक्रोन, ग्रेटर नोएडा थाना कासना गौतम बुद्ध नगर उप.।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s