पीएम मोदी के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट शेयर करने पर राज्यसभा के मुस्लिम अफसर पर कार्रवाई, लोअर ग्रेड में कर दी गई तैनाती

राज्यसभा सचिवालय के अधिकारियों के अनुसार, “राजनैतिक तटस्थता बनाए रखने में नाकाम रहने पर उरूजुल हसन के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है।”

राज्यसभा ने अपने एक अधिकारी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक, अपमानजनक और व्यंग्यात्मक पोस्ट करने पर पदावनत कर दिया है। राज्यसभा में डिप्टी डायरेक्टर (सुरक्षा) उरूजुल हसन के खिलाफ यह अनुशासनात्मक कार्रवाई की गई है।

राज्यसभा के सभापति एम.वेंकैया नायडु ने अधिकारी के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई के आदेश दिए हैं। जिनके मुताबिक दोषी अधिकारी के पद को पांच साल के लोअर ग्रेड का कर दिया गया है। इसके साथ ही अधिकारी के वेतन में भी पांच साल के लिए कोई बढ़ोत्तरी नहीं होगी। आदेश में ये भी कहा गया था कि दोषी अधिकारी फिर से अपने वरिष्ठ पद तक नहीं पहुंच सकेंगे।

डिमोशन (पदानवत) की प्रक्रिया 10 फरवरी से लागू हो गई है। सूत्रों के अनुसार, राज्यसभा सचिवालय पिछले 9 से 10 महीने से उरूजुल हसन की गतिविधियों पर नजर रख रहा था। सेंट्रल सिविल सर्विस (कंडक्ट) रूल्स, 1964 और राज्यसभा सचिवालय के रूल 14 के तहत दोषी अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की है।

सूत्रों के अनुसार, हसन ने पीएम मोदी के खिलाफ कुछ अपमानजनक ट्वीट और फेसबुक पोस्ट किए थे। हालांकि बाद में ये पोस्ट डिलीट कर दी गई थीं। मामला सामने आने के बाद मामले की जांच शुरू की गई और आरोपी अधिकारी को निलंबित कर दिया गया।

वहीं इस मामले को लेकर जब उरूजुल हसन की प्रतिक्रिया जाननी चाही गई तो उनसे संपर्क नहीं हो सका। फोन करने पर जिस शख्स से बात हुई, उसने खुद को हसन का भाई बताया और उरूजुल हसन को संदेश देने की बात कही थी।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s