Shahdol : हर चौथे दिन बंद हो जाती है चौराहों की सिग्नल, यातायात व्यवस्था बिगडऩे से वाहन चालक हो रहे परेशान

Feb, 14 2020 10:02:04 (IST)

दुर्घटना होने की बनी रहती है संभावना

शहडोल । शहर में चौराहों पर लगे सिग्नल हर चौथे दिन बंद हो जाते हैं। इससे यातायात व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ जाती है। यातायात व्यवस्था बिगडऩे से वाहनों से आवागमन करने वाले लोग परेशान हो जाते हैं। चौराहों पर सिग्नल बंद होने के चलते चारों तरफ से वाहन एक साथ गुजरने लगते हैं। इससे जाम की स्थिति भी बन जाती है। वहीं दुर्घटना होने की भी संभावना बनी रहती है।

इन चौराहों पर लगे हैं सिग्नल
शहर में चार जगहों पर ट्रैफिस सिग्नल लगाया गया है। इसमें गांधी चौक, जयस्तंभ चौक, अंबेडकर चौक और बुढ़ार चौक शामिल है। इसमें जयस्तंभ चौक का सिग्नल महीनों से बंद पड़ा है। इसका कारण ठेकेदार द्वारा सड़क का खोद दिया जाना है। वहीं बुढ़ार चौक पर सिग्नल में समय की खराबी आ गई है। इससे लोगों को काफी दिक्कत हो रही है। चौराहे पर वाहनों की जाम लग रही है।

शाम के समय काफी दिक्कत
शहर में शाम के समय इन चौराहों पर सिग्नल बंद हो जाने के चलते लोगों को काफी दिक्कत होती है। विशेषकर गांधी चौक पर तो शाम के समय वाहनों की संख्या काफी बढ़ जाती है। इससे यहां पर वाहन एक दूसरे के अचानक सामने आ जाते हैं। इससे जाम लग जाता है। बुढ़ार चौक पर भी यही हाल है। यहां भी चारों तरफ से एक साथ वाहन एक-दूसरे के सामने आ जाते हैं। सिग्नल चालू होने के बाद यहां समय की गड़बड़ी के चलते वाहन चालक परेशान हैं। लोगों ने कहा कि शहर में आए दिन सिग्नल खराब होने से यातायात व्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ जा रही है। यातायात थाना प्रभारी राजमति परस्ते ने कहा कि चौराहों पर लगे सिग्नल खराब होते हैं तो उन्हें सुधारने के लिए रीवा से मैकेनिक बुलाना पड़ता है। इसलिए दिक्कत आ रही है। सिग्नल का कंट्रोलर नगरपालिका द्वारा किया जाता है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s