फिल्मफेयर में ‘गली बॉय’ का तहलका, किया 14 सालों का रिकॉर्ड ध्वस्त

रणवीर सिंह’ (Ranveer Singh) और ‘अलिया भट्ट’(Alia Bhatt) की 2019 में आई फिल्म ‘गली बॉय’ (Gully Boy) ने इतिहास रच दिया है. इस फिल्‍म ने ‘अमिताभ बच्चन’, ‘शाहरुख खान’ की ब्लॉकबस्टर फिल्मों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

गुवाहाटी. बॉलीवुड के सबसे प्रतिष्ठित अवॉर्ड शोज में से एक ‘फिल्मफेयर अवॉर्ड्स’ (Filmfare Awards) के 65वें संस्करण का आयोजन गुवाहाटी (Guwahati) के इंदिरा गांधी ऐथलेटिक्स स्टेडियम में 15 फरवरी को किया गया. यह पहला मौका था जब फिल्मफेयर अवॉर्ड्स का आयोजन मुंबई (Mumbai) के बाहर हुआ. इसका प्रसारण 16 फरवरी को ‘कलर्स टीवी’ (Colours) पर रात 9 बजे से होगा. इसमें साल 2019 में आई फिल्‍म ‘गली बॉय’ ने इतिहास रच दिया. फिल्म ने एक साल के भीतर अवॉर्ड जीतने के कई रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं.

असल में इस साल का फिल्मफेयर अवॉर्ड्स इसलिए खास है क्योंकि इस साल ‘रणवीर सिंह’ (Ranveer Singh) और ‘अलिया भट्ट’(Alia Bhatt) की 2019 में आई फिल्म ‘गली बॉय’ (Gully Boy) ने इतिहास रच दिया है. इस फिल्म ने 65वें फिल्मफेयर अवॉर्ड्स पर सबसे ज्यादा 13 अवॉर्ड्स अपने नाम किए. इससे ‘गली बॉय’ ना केवल इस साल की सबसे ज्यादा अवॉर्ड जीतने वाली फिल्म बनी, बल्कि वो फिल्मफेयर अवॉर्ड्स के इतिहास में एक ही साल में सबसे ज्यादा अवार्ड्स जीतने वाली फिल्म भी बन गई. इस फिल्म ने साल 2005 की ‘अमिताभ बच्चन’ (Amitabh Bachchan) और ‘रानी मुखर्जी’ (Rani Mukherjee) स्टारर ‘ब्लैक’ (Black)  के 11 अवॉर्ड्स का रिकॉर्ड तोड़ दिया. इस फिल्म ने ‘बेस्ट एक्टर’ (Best Actor), ‘बेस्ट एक्ट्रेस’ (Best Actress), ‘बेस्ट डायरेक्टर’ (BestDirector), ‘बेस्ट फिल्म’ (Best Film), ‘बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर’ (Best Supporting Actor), ‘बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस’ (Best Supporting Actress) जैसे लगभग सभी मुख्य अवार्ड अपने नाम किए.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.