NDvsNZ : दूसरे टेस्ट के लिए टीम इंडिया में होंगे 3 बदलाव! ये हो सकती है विराट कोहली की प्लेइंग इलेवन

तीन मैचों की वनडे सीरीज 3-0 से जीतने के बाद न्यूजीलैंड (New Zealand) ने वेलिंगटन (Wellington) में खेले गए पहले टेस्ट में भी भारत (India) को 10 विकेट से हराया था.

क्राइस्टचर्च. वनडे सीरीज में सफाया होने के बाद भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket Team) के लिए टेस्ट सीरीज की शुरुआत भी बेहद निराशाजनक रही और टीम को वेलिंगटन (Wellington Test) में पहले टेस्ट में दस विकेट की शर्मनाक हार झेलनी पड़ी. हालांकि अब दुनिया की नंबर वन टेस्ट टीम न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ दो मैचों की सीरीज में वापसी करने के लिए तैयार नजर आ रही है. पहले टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों ने बुरी तरह निराश किया और टीम एक भी पारी में 200 रनों का आंकड़ा पार नहीं कर पाई. टीम के लिए अजिंक्य रहाणे और मयंक अग्रवाल को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज क्रीज पर टिकने का जज्बा नहीं दिखा सका. ऐसे में अब दूसरे टेस्ट में तीन बदलाव होते हुए नजर आ रहे हैं. आइए जानते हैं कि भारतीय कप्तान (Indian Captain) विराट कोहली (Virat Kohli) किस प्लेइंग इलेवन (Plying Eleven) के साथ क्राइस्टचर्च टेस्ट (Christchurch Test) में उतर सकते हैं.

1. मयंक अग्रवाल : टीम इंडिया के लिए ओपनर मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) ने वेलिंगटन टेस्ट की पहली पारी में 35 और दूसरी पारी में 59 रन बनाए. गेंदबाजों की मददगार पिच पर मयंक अन्य भारतीय बल्लेबाजों की तुलना में काफी सहज नजर आए. भारतीय टीम को उनसे एक और बेहतरीन प्रदर्शन की उम्मीद होगी.

2. पृथ्वी शॉ : टीम इंडिया के इस युवा ओपनर के दूसरे टेस्ट में खेलने को लेकर आशंका जताई जा रही थी, लेकिन अब हेड कोच रवि शास्‍त्री ने साफ कर दिया है कि पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) पूरी तरह से तैयार हैं. शॉ के बायें पैर में सूजन आ गई थी, लेकिन रवि शास्‍त्री के बयान के बाद माना जा रहा है कि वो दूसरे टेस्ट में उतरने के लिए पूरी तरह फिट हैं.

3. चेतेश्वर पुजारा : नंबर तीन पर चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की मौजूदगी भारतीय टीम के लिए भरोसे का नाम है. मगर पहले टेस्ट की दोनों पारियों में वह टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाने का भरोसा नहीं दे सके. हालांकि दोनों पारियों में उन्होंने काफी वक्त क्रीज पर बिताया, लेकिन बड़ा स्कोर नहीं बना सके. ऐसे में उन पर एक बार फिर खुद को साबित करने का दबाव होगा.

4. विराट कोहली : भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) के साथ बहुत कम ऐसा होता है कि वह लगातार पारियों में विफल हो जाएं. मगर वेलिंगटन टेस्ट में ऐसा ही हुआ. टी20, वनडे और वेलिंगटन टेस्ट को मिला दें तो विराट इस दौरे पर दस पारियों में महज एक ही अर्धशतक लगा सके हैं. ऐसे में उन पर टीम को जीत दिलाने के साथ मोर्चे से अगुआई करने का भी दबाव होगा. मगर विराट कोहली चुनौतियों का सामना करने का हुनर जानते हैं.

5. अजिंक्य रहाणे : न्यूजीलैंड के खिलाफ अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) ने वेलिंगटन टेस्ट की पहली पारी में बेहतरीन 46 रन बनाए. रहाणे दूसरी पारी में भी सहज नजर आ रहे थे, लेकिन बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे. हालांकि वह विदेशी पिच पर टीम इंडिया के लिए अच्छा प्रदर्शन करने के लिए जाने जाते हैं. दूसरे टेस्ट में भी उनसे टीम इंडिया को बड़ी उम्मीद होगी.6. शुभमन गिल : हालांकि हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) का प्रदर्शन लगातार खराब नहीं रहा है, लेकिन शुभमन गिल (Shubhman Gill) को इसलिए मौका दिया जा सकता है क्योंकि क्राइस्टचर्च में ही उन्होंने हाल ही में न्यूजीलैंड ए के खिलाफ इंडिया ए की ओर से खेलते हुए दोहरा शतक लगाया था. गिल इस मैदान को अच्छी तरह जानते हैं और पिछले प्रदर्शन से मिला विश्वास वह दूसरे टेस्ट में दोहरा पाए तो टीम इंडिया के लिए भला इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.