सोशल डिस्टेंस का अनिवार्य रूप से पालन हो, कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने हेतु मिल-जुल कर कार्य करें-मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान

उज्जैन । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संभागायुक्तों, कलेक्टरों को निर्देश दिये कि किसी भी स्थान पर भीड़ का जमावड़ा न हो, इसका पालन अनिवार्य रूप से सुनिश्चित किया जाये। सोशल डिस्टेंस का पालन भी अनिवार्य रूप से हो। कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने में अधिकारी अपनी क्षमताओं को साबित करें। हम सब इस संकट से निपटेंगे। कोई भी व्यक्ति डरे नहीं, राज्य सरकार इस महामारी से निपटने के लिये तैयार है, परन्तु व्यक्ति लक्ष्मण रेखा को पार न करे। वे जहां हैं वहीं अपने घरों में रहें, बाहर न निकलें। अत्यावश्यक वस्तुएं क्रय हेतु निर्धारित समय के अनुसार निकला जाये।


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने वीसी में अधिकारियों को निर्देश दिये कि राज्य सरकार के द्वारा दिये गये निर्देशों का पालन कड़ाई से किया जाये। कलेक्टर अपने-अपने जिलों में निर्देशों का पालन करायें। अतिउत्साहित लोग जो सड़कों पर घूमते हैं, उन्हें सचेत किया जाये। सोशल मीडिया का उपयोग अधिक करें, ताकि आमजन को सूचनाएं समय पर मिल सकें। कलेक्टर श्री शशांक मिश्र ने उज्जैन शहर की महिला श्रीमती राबियाबी पति कुतुबुद्दीन की कोरोना वायरस पॉजीटिव होने पर मृत्यु होने की जानकारी दी। कलेक्टर ने वीसी में जिले में की जा रही चाक-चौबन्द व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी और बताया कि वे सतत मॉनीटरिंग कर सोशल मीडिया एवं अन्य संसाधनों के द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार जनता में जागरूकता लाई जा रही है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के समस्त जिला कलेक्टरों को निर्देश दिये हैं कि वे अपने-अपने जिले में किसी भी प्रकार के धार्मिक, सामाजिक आयोजन न हों और न ही मेले आदि लगें। साथ ही धरना, आन्दोलन, प्रदर्शन भी किसी भी हालत में नहीं होना चाहिये। मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिये हैं कि अपने जिलों के धर्मगुरूओं से चर्चा कर उनसे अपील करवायें कि जनता अपने घरों में रहे, बाहर न निकले। उन्होंने निर्देश दिये कि हाल ही में चैत्र नवरात्रि प्रारम्भ हो गई है। लोग घरों में ही पूजा-पाठ करें, मन्दिरों में न जायें।


वीसी में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये कि सोशल डिस्टेंस का अनिवार्य रूप से पालन कराया जाना सुनिश्चित करें। अतिआवश्यक सामग्री लेने वाले स्थान पर भी डिस्टेंस मेंटेन कराया जाये। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी सामुदायिक निगरानी अनिवार्य रूप से रखें। सामान्य सर्दी-जुकाम होने पर व्यक्ति अस्पताल न जाकर निर्धारित कॉल पर दवाई मंगायें। मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिये हैं कि वे अपने-अपने जिले के समाजसेवियों की सेवाएं भी अनिवार्य रूप से लें। फूड पैकेट गरीबों में वितरण करवायें। धनवान व्यक्तियों से भी मदद लेने की अपील करें। कंट्रोल रूम एवं कॉल सेन्टर पर सेवाएं दे रहे अधिकारी-कर्मचारी पूर्ण जिम्मेदारी के साथ अपने कर्त्तव्यों का निर्वहन करे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोई भी व्यक्ति भूखा न रहे, चाहे नगरीय क्षेत्र हो या ग्रामीण क्षेत्र। फूड पैकेट की व्यवस्था करना सुनिश्चित करें। सभी आवश्यक सुविधाएं जैसे किराने का सामान, सब्जी, दूध आदि की उपलब्धता निर्धारित समय में होना सुनिश्चित करें। इसी तरह परिवहन जिसमें अत्यावश्यक सामग्री इधर से उधर भेजना हो, उस पर रोक न हो।


मुख्यमंत्री ने वीसी में निर्देश दिये कि इस महामारी के समय कोई भी व्यक्ति कालाबाजारी न करे। मानवीय गुण रखें। कालाबाजारी होने पर और शिकायत मिलने पर कलेक्टर सम्बन्धितों के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाये। इस सम्बन्ध में जागरूक रहें। जो जहां है वे वहीं रहें, बाहर न जायें, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाये। फसलों की कटाई में लगने वाले मजदूर एवं हार्वेस्टिंग को रोका न जाये, उन्हें आवश्यक नियमानुसार चैकिंग कर उनका कार्य करने दें। उपार्जन केन्द्रों एवं मंडियों के बारे में भी शीघ्र बैठक लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किये जायेंगे। उपार्जन का काम रोक नहीं सकते हैं, इस सम्बन्ध में शीघ्र निर्देश जारी किये जा रहे हैं। जिलों में पर्याप्त आइसोलेशन वार्ड बनायें। मुख्यमंत्री ने जिला कलेक्टरों को निर्देश दिये कि वे अपने जिले की स्थानीय परिस्थितियों के हिसाब से स्वविवेक से निर्णय लेकर इस आपदा से निपटा जाये। राज्य सरकार हरसंभव मदद करेगी। मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि समस्त सामाजिक पेंशन के हितग्राहियों को अप्रैल-मई का एकसाथ एडवांस भुगतान किया जाये। बीपीएल परिवार के कार्डधारियों को एक माह का राशन भी नि:शुल्क उपलब्ध कराया जायेगा। कोरोना वायरस के पॉजीटिव मरीज का नि:शुल्क राज्य सरकार इलाज करायेगी। महामारी से निपटने के लिये राज्य सरकार धन की कमी नहीं आने देगी। समस्त अधिकारी एकजुटता के साथ इस आपदा से निपटें।
वीसी में संभागायुक्त श्री आनन्द कुमार शर्मा, आईजी श्री राकेश गुप्ता, डीआईजी श्री मनीष कपूरिया, कलेक्टर श्री शशांक मिश्र, पुलिस अधीक्षक श्री सचिन अतुलकर, अपर कलेक्टर श्री क्षितिज सिंघल, श्रीमती बिदिशा मुखर्जी, एडीएम डॉ.आरपी तिवारी, क्षेत्रीय संयुक्त संचालक स्वास्थ्य श्रीमती लक्ष्मी बघेल आदि अधिकारी उपस्थित थे।

शिवा पवार डीजी न्यूज बैतूल

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s