कोरोना: स्पेन में बीते 24 घंटों में 1100 से ज्यादा मौतें, कुल मौतों के मामले में चीन को पीछे छोड़ा

बीते 24 घंटे में ही स्पेन में 1100 से ज्यादा मौतें हुई हैं जिससे कुल मौतों का आंकड़ा 3434 पहुंच गया है. स्पेन में कोरोना से संक्रमित हुए कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 47610 हो गयी है.

मैड्रिड. यूरोप के हर देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण के नए मामले लगातार सामने आ रहे हैं. इटली (Italy), जर्मनी, फ्रांस और स्पेन (Spain) कोरोना संक्रमण से बुरी तरह प्रभावित हैं. बीते 24 घंटे में ही स्पेन में 1100 से ज्यादा मौतें हुई हैं जिससे कुल मौतों का आंकड़ा 3434 पहुंच गया है. कोरोना से मौतों के मामले में स्पेन ने चीन को भी पीछे छोड़ दिया है, चीन में इस संक्रमण से अभी तक 3281 मौतें हुई हैं. कोरोना से इटली में सबसे ज्यादा 6820 मौतें दर्ज की गयी हैं.



स्पेन में 11 दिन से है लॉकडाउन

स्पेन में तेजी से फैलते कोरोना वायरस को रोकने के लिये 11 दिन से लॉकडाउन जारी है. स्पेन में कोरोना से संक्रमित हुए कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 47610 हो गयी है. 25 मार्च को खबर लिखे जाने तक यहां 5552 नए मामले सामने आ चुके थे जबकि 24 मार्च को ये संख्या 6922 थी. वहीं ईरान में बुधवार को 143 और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 2,077 हो गई है. ईरान स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता कियानूश जहानपुर ने कहा, ‘हमारे साथियों को बीते 24 घंटे में 2,206 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की जानकारी मिली है जिसके साथ ही देश में संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 27,017 हो गई है.’

पाकिस्तान में 1000 लोग हुए संक्रमण के शिकार
पाकिस्तान में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या 1,000 के पार चले जाने के बाद सभी घरेलू उड़ानों का परिचालन दो अप्रैल तक के लिए रोक दिया गया है. यह कदम संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए उठाया गया है. सिंध में 413 मामले हैं, बलूचिस्तान में 115, पंजाब में 296, खैबर पख्तूनख्वा में 117, गिलगित-बाल्टिस्तान में 80, इस्लामाबाद में 15 और पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में एक मामला है. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने कहा कि देश में कोरोना वायरस से अबतक सात लोगों की मौत हो चुकी है और 18 मरीज़ ठीक हो चुके हैं. कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर, देश ने घरेलू उड़ानों के रोक दिया है.

बंद की जा सकती है ब्रिटेन की संसद
कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए बुधवार को ब्रिटिश संसद को बंद किया जा सकता है और सांसदों को एक सप्ताह पहले ही ईस्टर का अवकाश दिया जा सकता है. सरकार ने संसद के निचले सदन हॉउस ऑफ कॉमन में प्रस्ताव रखा है कि बुधवार की कार्यवाही के बाद संसद को 21 अप्रैल तक के लिए बंद कर दिया जाए. आवासीय सचिव रॉबर्ट जेनरिक ने बीबीसी को बताया कि देशभर में गैर जरूरी दुकानों और सेवाओं को बंद करना और लोगों को घर में रहने का आदेश देना एक समझदारी भरा निर्णय था. उन्होंने कहा, ‘जाहिर है कि संसद को उदाहरण प्रस्तुत करना चाहिए.’ उन्होंने कहा कि कर्मचारियों को कोविड-19 के संक्रमण से बचाना जरूरी है. उन्होंने कहा कि उन्हें विश्वास है कि ईस्टर की छुट्टियों के बाद संसद दोबारा शुरू होगी.

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s