सीएमओ ने वार्डों में गाड़ी चलाकर दी बंद की जानकारी

मुलताई। गाड़ी चलाकर बंद की जानकारी देते सीएमओ।

मुलताई। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए 21 दिन का टोटाल लॉकडाउन कर दिया गया है। प्रशासन द्वारा लगातार इसकी जानकारी दी जा रही है। इधर सीएमओ राहुल शर्मा द्वारा नपा के वाहन से लगातार इसकी जानकारी दी जा रही है। सीएमओ राहुल शर्मा ने नपा की गाड़ी चलाई और एनाउंस भी किया। सीएमओ शर्मा ने बताया कि इस समय नपा का पूरा अमला अलग-अलग काम में लगा है, हालात ऐसे हैं कि कम मेन पावर में ज्यादा काम निपटाना है, ऐसे में उनके द्वारा भी वाहन चलाया जा रहा है। उनके द्वारा लोगों को बंद की जानकारी दी जा रही है। इसके अलावा लोगों से घरों से बाहर नहीं निकलने का आग्रह किया गया जा रहा है।




कुछ मेडिकल वालों ने बंद की दोपहर में दुकानें

पास नहीं बनने से परेशान हैं मेडिकल संचालक



मुलताई। दोपहर बाद बंद हो गए मेडिकल स्टोर्स।

मुलताई। बुधवार को दोपहर बाद नगर के कुछ मेडिकल स्टोर बंद कर दिए गए। मेडिकल स्टोर संचालकों के अनुसार बैतूल से माल नहीं आ पा रहा है, ऐसे में वह दुकानों से दवाइयों की आपूर्ति नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि उन्हें भी पास जारी नहीं किए गए हैं, जिससे उन्हें घर से दुकान आने में परेशानी हो रही है। ऐसे में उनके सामने मेडिकल बंद करने के अलावा अब और कोई विकल्प नहीं है। कुछ मेडिकल में सैनिटाइजर, मास्क सहित आवश्यक दवाइयां खत्म हो गई हैं। बुधवार की सुबह जब एक मेडिकल संचालक मेडिकल खोलने जा रहा था, तो पुलिस एवं प्रशासन द्वारा उससे उठक-बैठक करवाई गई। जिससे भी मेडिकल स्टोर संचालकों में आक्रोश व्याप्त है। बैतूल जिला औषधीय संघ के संभागीय सचिव देवेंद्र धोपाड़े ने बताया कि मेडिकल स्टोर वाले कोरोना की लड़ाई में लगातार भाग लेकर काम कर रहे हैं, लेकिन उन्हें परेशान किया जा रहा है और सहयोग नहीं किया जा रहा है। पास जारी कर उन्हें राहत दी जानी चाहिए।




सूना हो गया ताप्ती का घाट

मंदिर भी रहे सुने

मुलताई। सुना पड़ा ताप्ती तट।

मुलताई। चैत्र के नवरात्र पर हर साल ताप्ती तट पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ रहती थी, लेकिन टोटल लाक डाउन के चलते बुधवार को ताप्ती तट और तट पर स्थित सभी मंदिर पूरी तरह से सूने रहे। लोगों ने अपने-अपने घरों में पूजन किया, इधर मंदिरों में केवल पुजारी द्वारा पूजन किया जा रहा है। आम लोगों के लिए मंदिर पूरी तरह से बंद हैं। हर साल चैत्र नवरात्र में मंदिरों में चहल-पहल देखते ही बनती है, लेकिन बुधवार को एकदम सुनसान था। श्रद्धालुओं का कहना है कि मुश्किल की घड़ी में सभी भगवान के ऑनलाइन दर्शन करके घरों में ही पूजा कर रहे हैं।



बाहर निकलने वालों की हो रही पिटाई, एसडीएम ने भी उठाया डंडा

अब प्रशासन बरत रहा सख्ती


मुलताई। एसडीएम डंडा चलाते हुए।

मुलताई। टोटाल लॉकडाउन घोषित होने के बाद भी कुछ लोग घर में नहीं ठहर रहे हैं और बिना किसी काम के घरों से बाहर निकल रहे हैं। बुधवार को कुछ लोगों ने दुकानें भी खोल ली थीं, जिसके बाद प्रशासन ने सख्ती दिखााना शुरू किया और जमकर डंडा चलाया। बुधवार को पुलिस वालों द्वारा बिना वजह घर से बाहर निकले लोगों पर डंडे चलाए और उन्हें घर में रूकने की हिदायत दी। इधर एसडीएम सीएल चनाप द्वारा भी बुधवार को हाथों में डंडा थामा गया और डंडा चलाया भी गया। उन्होंने लोगों से उठक-बैठक भी लगवाई और लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने की समझाईश दी। एसडीओपी सहित टीआई मनोज सिंग द्वारा लगातार मानिटरिंग की जा रही है और बेवजह घर से बाहर निकलने वालों को सबक सिखाया जा रहा है। इधर नगर की चारों सीमाओं को बैरीकेट्स से बंद कर दिया गया है और घर से बाहर निकलने वालों से कारण पूछा जा रहा है।



सब्जियों और किराना की होम डिलेवरी नहीं

खेत नहीं जा पा रहे किसान

मुलताई। सब्जियों और किराना की होम डिलेवरी की बात प्रशासन द्वारा कहीं गई थी, लेकिन बुधवार को सब्जी और किराना की होम डिलेवरी नहीं हो पाई। इधर किसानों को खेत जाने में भी परेशानी हो रही है। किसानों का कहना है कि उनके खेतों में उनके मवेशी बंधे हुए है, उन्हें चारा-पानी करने के लिए उन्हें घर से खेत जाना ही पड़ेगा, यदि वह खेत नहीं गए तो उनके मवेशी भूखे-प्यासे मर जाएंगे। ऐसे में उन्हें खेत जाने के लिए पास जारी किए जाने चाहिए। इधर किराना दुकान संचालकों का कहना है कि होम डिलेवरी बिना पास के संभव नहीं है, इसलिए बिना पास के होम डिलवेरी नहीं की जा सकती है।



अस्पताल में बाहर से आए लोगों की उमड़ी भीड़

लापरवाही

जांच करवाने आए लोग, डाक्टरों को करना पड़ा 20-20 घंटे काम

प्रतिबंध के बाद भी सामान्य बीमारी का इलाज कराने आ रहे लोग



मुलताई। ग्रामीणों की जांच करते स्वास्थ्यकर्मी।

मुलताई। नगर के सरकारी अस्पताल में बुधवार को जांच करवाने आए लोगों की भीड़ लग गई। बीएमओ उदयप्रताप सिंह तोमर ने तुंरत ही लोगों को दूरी से खड़ा किया। बीएमओ ने बताया कि डाक्टरों को 20-20 घंटे काम करना पड़ रहा है। सामान्य ओपीडी बंद कर दी गई है, लेकिन इसके बाद भी कई लोग सामान्य बीमारी के उपचार के लिए आ रहे हैं, उनका भी उपचार किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार टीम जा रही है और जो लोग बाहर से आए है, उन लोगों की जांच की जा रही है। बुधवार को भी स्वास्थ्य विभाग की टीम साबड़ी गई थी, जहां 100 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया।

दोपहर बाद अचानक हुई तेज बारिश

कटाई पर आए गेहूं को नुकसान

मुलताई। नगर सहित ग्रामीण क्षेत्रों में बुधवार की दोपहर बाद अचानक तेज बारिश शुरू हो गई। क्षेत्र में इस समय गेहूं की कटाई का दौर चल रहा है, ऐसे में कटाई पर आए हुए गेहूं को इस बारिश से ज्यादा नुकसान होना बताया जा रहा है। लगभग एक घंटे तक बारिश जारी रही। किसानों का कहना है कि गेहूं कटाई के लिए वैसे ही मजदूर नहीं मिल रहे हैं, उस पर इस बारिश ने किसानों की मुश्किल को बढ़ा दिया है। इससे गेहूं की चमक पर असर पड़ेगा और गेहूं के दाम बराबर नहीं मिल पाएंगे, पिछले दिनों में तेज हवा एवं बारिश सहित ओलावृष्टि से गेहूं की फसल को नुकसान पहुंचा था। अब एक बार फिर बेमौसम की बारिश ने किसानों को परेशान कर दिया है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s