Coronavirus Maharashtra News, 29 March: महाराष्ट्र में संक्रमण के 196 मामले, 45 वर्षीय शख्स ने गंवाई जान

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का असर

 
 

मुंबई : देश भर में कोरोना वायरस के लगातार मामले बढ़ते जा रहे हैं। यह संख्या 900 के पार कर गई है। सर्वाधिक मामले अब तक महाराष्ट्र में पाए गए हैं। यहां कुल मरीजों की संख्या बढ़कर 193 हो गई है। महाराष्ट्र के हेल्थ मंत्री ने कहा कि अब तक एक्टिव मामले 155 हैं। जबकि मुंबई 14, पुणे 15, नागपुर 01, औरंगाबाद 01, यवतमाल 03 लोग ठीक हो गए हैं। प्रदेश में 34 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। प्रदेश में कुल 7 लोगों की मौत हो गई है। हेल्थ विभाग ने यह भी कहा कि राज्य में कुल रोगियों की संख्या में से 104 ऐसे हैं जिनमें COVID-19 के लक्षण नहीं हैं, फिर भी वे इस वायरस से संक्रमित पाये गए हैं। विज्ञप्ति में कहा गया है कि 5 मरीजों की हालत गंभीर है। मुंबई के एक प्राइवेट अस्पताल में दम तोड़ने वाले 85 साल के डॉक्टर कोरोना वायरस से संक्रमित थे। 

Coronavirus in Maharashtra News UPDATES

महाराष्ट्र में अगर अब तक डिस्चार्ज किए गए लोगों की बात करें तो-मुंबई में 14, पुणे 15, नागपुर 01, औरंगाबाद 01, यवतमाल 03, ऐसे 34 लोगों को संबंधित अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। फिलहाल 155 लोग बीमारी से जूझ रहे हैं। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने इस बारे में जानकारी दी।AdvertisingAdvertising

महाराष्ट्र में COVID-19 के सकारात्मक मामलों की मौजूदा संख्या 196 है। मुंबई और ठाणे क्षेत्र में 107, पुणे 37, नागपुर 13, अहमदनगर 03, रत्नागिरि 01, औरंगाबाद 01, यवतमाल 03, मिराज 25, सतारा 02, सिंधुदुर्ग 01, कोल्हापुर 01, जलगांव 01 और बुलढाणा में 01 मामला सामने आया है।

राज्य में एक 45 वर्षीय मरीज की बुलढाणा में मौत हो गई। उनकी मौत के पीछे का सही कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है।

एक्टिव मामले 155, 34 हुए ठीक
महाराष्ट्र के हेल्थ मंत्री ने कहा कि अब तक एक्टिव मामले 155 हैं। जबकि मुंबई 14, पुणे 15, नागपुर 01, औरंगाबाद 01, यवतमाल 03 लोग ठीक हो गए हैं। प्रदेश में 34 लोगों को अस्पतालों से छुट्टी दे दी गई है। 

मुंबई में 40 साल के मरीज की मौत 
मुंबई में एक 40 वर्षीय कोरोना वायरस मरीज की मौत हो गई, कल उन्हें सांस लेने में ज्यादा परेशानी होने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनको उच्च रक्तचाप की भी बीमारी थी। ये महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से संबंधित सातवीं मौत है। 

जरूरतमंदों को मुफ्त अनाज देगा किसान
लॉकडाउन को देखते हुए नासिक के एक किसान ने जरूरतमंद गांववालों को मुफ्त अनाज देने का फैसला किया। दत्ता राम पाटिल, किसान बताते हैं-मेरी 3 एकड़ की खेती है, उसमें 35-40 क्विंटल गेंहू होती है। मैंने संकल्प किया कि 1 एकड़ में होने वाली गेंहू गरीब लोगों में बांट दूंगा।

 प्रदेश 7 और मामले सामने आए
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के 7 और मामले सामने आए हैं, जिसमें 4 मुंबई के हैं और 1-1 पुणे, सांगली और नागपुर से। राज्य में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 193 हो गई है।
 

फेक ऑडियो मैसेज पर मुंबई पुलिस का बयान
यह संदेश विभिन्न ग्रुप्स पर प्रसारित किया जा रहा है @CPMumbaiPolice का मैसेज। कृपया ध्यान दें कि यद्यपि ऑडियो में कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है, यह न तो उसकी आवाज है और न ही उसका मैसेज। मुंबाइकरों से अनुरोध है कि कृपया अपने नाम से इसे आगे प्रसारित न करें।

प्रदेश में यहां पाए गए पॉजिटिव मरीज
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के पॉजिटिव रोगियों की संख्या के मामले में मुंबई सबसे आगे हैं जहां 73 मामले सामने आए हैं। सांगली में 24 मामले (सभी एक ही परिवार से), पुणे 19, पिंपरी चिंचवाड़ 12, नागपुर 11, कल्याण-डोंबिवली सात, नवी मुंबई छह, ठाणे पांच, यवतमाल और वसई-विरार चार-चार, अहमदनगर तीन, सतारा और पनवेल दो मामले, उल्हासनगर, औरंगाबाद, रत्नागिरि, पुणे ग्रामीण, सिंधुदुर्ग, पालघर, कोल्हापुर, गोंदिया में एक-एक मामले हैं। वहीं एक मरीज गुजरात का रहने वाला है। मरने वालों में पांच मुंबई के और एक नवी मुंबई का था।  

लॉकडाउन के उल्लंघन पर 6000 से अधिक केस दर्ज
कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए निषेधाज्ञा लागू रहने के बीच, पुलिस ने पूरे महाराष्ट्र में आदेशों के उल्लंघन और संबंधित अपराधों के लिए 6,142 मामले दर्ज किए हैं। ज्यादातर मामले भारतीय दंड संहिता की धारा 188 और 270 और आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत दर्ज किए जा रहे हैं। एक आधिकारिक विज्ञप्ति में कहा गया है कि सबसे अधिक मामले (1,008) अहमदनगर शहर में दर्ज किए गए हैं। इसके बाद सोलापुर शहर (687), पुणे शहर (418), पिंपरी चिंचवाड (576), नागपुर शहर (492) और नासिक शहर (471) शामिल हैं। मुंबई में धारा 188 के तहत 211 अपराध दर्ज किए गए हैं।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की घोषणा किए जाने से एक दिन पहले 23 मार्च को सड़कों पर बड़ी सभाओं और आंदोलनों को प्रतिबंधित करने के लिए दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू की थी।
 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.