कोरोना / खरगोन में 62 साल के बुजुर्ग की मौत के 2 दिन बाद कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट; दिल्ली जमात से लौटे 2 और पेरिस से आया एक संदिग्ध आइसोलेट

संदिग्ध मरीजों को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया गया।

जिले में काेरोना का पहला मामला सामने आया, बुजुर्ग कोकैंसर, ब्लड प्रेशर, शुगर औरसांस लेने की तकलीफ थी
मंडलेश्वर का 32 वर्षीय युवकको 4 दिन से तेज बुखार, सर्दी-खांसी, गले के साथ शरीर में दर्द के बाद अस्पताल में भर्ती कराया

महेश्वर क्षेत्र के बड़वाह की62 वर्षीय बुजुर्गकी मौत के 2 दिन बाद कोरोना पॉजिटिवरिपोर्ट आई है। मंगलवार देर इंदौर के एमजीएम मेडिकल कॉलेजसे आई रिपोर्ट में खरगोन जिले में कोरोना का यह पहला केस है। बुजुर्गको सांस लेने में तकलीफ के बाद जिला अस्पताल से इंदौर एमवाय अस्पताल रैफर किया गया था। डॉक्टरों के मुताबिक उसे कैंसर, ब्लड प्रेशर, शुगर औरसांस लेने की तकलीफ थी। बुधवार सुबह टीम गांव पहुंची और पूरे क्षेत्र को सील कर दिया।घर से लगे क्षेत्र को सैनिटाइज किया गया। वहीं, परिजनको होम आईसोलेट किया गया है। उनकी निगरानी की जा रही है। इसके अलावा ऊन के युवक समेत चार लोगों की भेजी गई रिपोर्ट निगेटिव आई है। चारों मरीजों को कोरोना की बीमारी नहीं है। सभी को दामखेड़ा स्थित एकांतवास वार्ड में 15 दिन तक डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।

जमात से लौटे दो को आइलोलेशन वार्ड भेजा
दिल्ली में जमात में शामिल होकर लौटे शहर के दो युवाओं को जांच के बाद जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया। इसके अलावा पेरिस से लौटे एक युवक को भी भर्ती किया है। तीनों मंगलवार को ही शहर लौटे। सुबह 11 बजे दिल्ली से लौटे दो युवकों की जांच हुई। दोनों में सर्दी-जुकाम, खांसी औरबुखार के लक्षण मिले। इसके बाद दोनों को भर्ती कर लिया गया। उनके सैंपल लिए हैं। इंदौर भेजे जाएंगे। पेरिस से आए छात्र को भी आइसोलेशन वार्ड में रखा है। दोपहर बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम तीनों के घर पहुंची। यहां उनके परिजनों की जांच की गई है। तीनों को परिजनको घर में रहने को कहा गया है। इसके अलावा सोमवार देर शाम को भर्ती किए बड़गांव के मरीज के परिजनों की जांच की गई है। वह पांच दिन पहले इंदौर से लौटा था। तबीयत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल में लाए।


जमात के सदस्यों को ढूंढने में परेशान है पुलिस
दिल्ली में जमात में शामिल खरगोन के अलावा भीकनगांव क्षेत्र के भी अनुयायी बताए जा रहे हैं। खरगोन के दो युवकों के अलावा दौड़वा के एक युवक के शामिल होने की सूचना पर पुलिस व स्वास्थ्य विभाग खोजबीन शुरू की। दिल्ली में उनके मोबाइल नंबर के ट्रेस होने पर सूचना खरगोन भेजी गई। इसके बाद ताबड़तोड़ पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम दौड़वा गांव पहुंची। यहां संबंधित युवक घर नहीं मिला। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। इसके अलावा जिले में दो-तीन अन्य युवकों की भी तलाश की जा रही है। नाम व पते ठीक न होने के कारण परेशानी हो रही है।

3 मरीज मिले, 66 में से 39 का आइसोलेशन पूरा
मंगलवार को 3 नए मरीजों के सैंपल इंदौर के महात्मा गांधी मेडिकल कॉलेज स्थित वायरोलॉजी लैब भेजे गए हैं। जिले से अब तक कुल 8 सैंपल भेजे जा चुके हैं। 4 सैंपल की रिपोर्ट निगेटिव मिली है, वहीं एक पॉजिटिव मिला है। इसके अलावा तीन की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। 5 कोरोना के संदिग्ध मरीजों को दामखेड़ा स्थित आइसोलेशन वार्ड में रखा है, जबकि दो मरीजों को जिला अस्पताल में रखकर डॉक्टर निगरानी कर रहे हैं। बाहर से आने वाले 66 लोगों होम आईसोलेट किया गया था। इनमें 39 को 14 दिन पूर्ण होने पर मुक्त किया है। फिलहाल 27 लोग होम आइसोलेट है। इन लोगों के स्वास्थ्य पर लगातार नजर रखी जा रही है।

इंदौर कीमहिला बड़वाह गई थी, फिर अलर्ट हुआ स्वास्थ्य विभाग

इंदौर कीकोरोना पॉजिटिव महिलाबड़वाह गई थी। उसकी मौतहो गई है, इसके बाद स्थानीय स्वास्थ्य विभाग का अमला अलर्ट हो गया। महिला 15 मार्च को बड़वाह टावर बेड़ी में एक परिवार के मंगनी कार्यक्रम में आई थी। इसके बाद उसकी तबीयत खराब हो गई। अस्पताल में भर्ती हुई। यहां स्वास्थ्य विभाग ने जांच के बाद उन्हें कोरोना पॉजिटिव घोषित किया। महिला की मौत के बाद फिर से स्वास्थ्य विभाग मेहमानों समेत पूरे टावरबेड़ी के लोगों की जांच करेगा।लेकिन इस बार यह जांच राज्य स्तरीय डॉक्टरों की टीम के नेतृत्व में की जाएगी। सीबीएमओ डॉ. अनुज खारकुर ने बताया कि राज्य स्तरीय टीम सिविल अस्पताल आएगी जो 40 सदस्यीय सर्वे दल को दिशा निर्देश औरजरूरी गाइडलाइन बताएगी। इसके बाद फिर टीम संबंधित क्षेत्र में जाकर सभी लोगों की जांच करेगी।

10349 लोगों की जांच
जिलेभर के स्वास्थ्य केंद्रों में मंगलवार को 10 हजार 349 लोगों की जांच की गई। इसमें सदी-खांसी व बुखार के कुल 2139 मरीजों की स्क्रीनिंग की गई है। जिला कंट्रोल रूम में 17 सूचना मिली है। उनका तत्काल निराकरण किया गया। सीएम हेल्पलाइन में 705 शिकायतों में से 542 का निराकरण किया गया।

मंडलेश्वर के संदिग्ध को धार भेजा
मंडलेश्वर के एक 32 वर्षीय मरीज को 4 दिन से तेज बुखार, सर्दी-खांसी व गले में व शरीर में दर्द की शिकायत होने पर धामनोद अस्पताल में भर्ती कराया। डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद उसके लक्षणों को देखकर जिला अस्पताल धार रैफर कर दिया। मरीज को बैगंदा निवासी परिजन लेकर आए थे। उन्हें भी साथ में भेजा है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.