अनलॉक 1.0 / खुले बाजार, दौड़ा व्यापार

Open market, ran business

रात 8:30 बजे बंद करनी होंगी दुकानें, कलेक्टर ने संशोधित आदेश निकाला

जबलपुर. अनलॉक 1.0 से राहत मिलने के साथ ही बुधवार से शहर के ग्रीन जोन में लगभग सभी तरह के व्यापारिक प्रतिष्ठान खुलते ही बाजारों में रौनक लौट आई। शहर के क्वारंटीन और बफर जोन वाले हिस्से को छोड़कर करीब 80 फीसदी क्षेत्र में कपड़ा, चाय-नाश्ता, पान, किराना, हार्डवेयर सहित अन्य सभी तरह की दुकानें खुल गईं। लॉकडाउन की दिनचर्या से हटकर आम आदमी भी सामान्य दिनों की तरह सड़कों पर िनकला।

दोपहर तक शहर और कारोबार दोनों दौड़ पड़े। अनलॉक होते ही शहर पहले दिन से ही अपनी पुरानी िदनचर्या में लौट आया है। हालाँकि प्रशासन ने अभी रेस्त्रां, मॉल सहित कुछ अन्य कारोबार बंद करा रखे हैं, लेकिन इनका ज्यादा असर देखने नहीं मिला। बुधवार को न सिर्फ प्रमुख बाजार बल्कि बड़ा फुहारा में फुटपाथ पर लगने वाले पारंपरिक बाजार भी सज गये, जहाँ विवाह संबंधी खरीदी के लिये ग्राहकों की भीड़ भी पहुँची।


इधर बुधवार को समीक्षा के बाद कलेक्टर ने बाजार बंद होने की समय सीमा को लेकर अपने आदेश में संशोधन किया है। नई व्यवस्था के तहत अब बाजार रात 8-30 बजे तक ही खुलेंगे, पहले रात 9 बजे तक की अनुमति दी गई थी। वहीं रात 9 से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यू रहेगा। समय सीमा में यह बदलाव इसलिए किया गया है कि कर्फ्यू लगने से पहले व्यापारी और ग्राहक सभी समय पर घर पहुँच जाएँ।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग पहले दिन ही गायब
शहर में कोरोना संक्रमण का खतरा फिर न बढ़े इसके लिय प्रशासन ने बाजार खोलने से पहले सख्त हिदायत दी थी कि कारोबारियों सहित आम जनता को सोशल डिस्टेंसिंग का गंभीरता से पालन करना होगा, लेकिन शहर में कहीं भी ऐसा नजर नहीं आया। शहर के प्रमुख बाजारों में नियमों के विपरीत दुकानें अपनी हद से बाहर तक लगाई गईं और उनके सामने सड़क पर ग्राहकों ने वाहन भी पार्क किये, जबकि इसे पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया था। न तो ग्राहक पार्किंग तक पहुँचे और न ही दुकानदारों ने िनयमों का पालन किया।

मंडी में लगी बोली, डिस्टेंसिंग भूले
कृषि उपज मंडी में सब्जी बाजार के साथ ही अनाज व्यापार भी रूटीन में आ गया है। प्रतिदिन सैकड़ों किसान अपनी उपज लेकर पहुँच रहे हैं । लेकिन यहाँ भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा है, जबकि मंडी प्रशासन ने पहले दिन से ही सख्त अादेश दिये थे कि ऐसी लापरवाही पर जुर्माने की कार्रवाई की जाएगी, लेकिन किसान और व्यापारी नियमों को ताक पर रखकर काम कर रहे हैं।

पार्क भी जल्दखोले जाएँगे
भँवरताल, टैगोर गार्डन सहित शहर के अन्य प्रमुख पार्क भी जल्द खुल सकते हैं। इसके लिए प्रशासन द्वारा गाइडलाइन तैयार की जा रही है कि अभी पार्क में किसे प्रवेश दिया जाए और किसे नहीं। पार्क खुलने और बंद होने की समय सीमा पर भी विचार किया जा रहा है। कलेक्टर भरत यादव ने बताया कि नगर निगम कमिश्नर के साथ पार्क खोलने को लेकर विचार िवमर्श किया जा रहा है। जल्द ही इस पर निर्णय लिया जाएगा।

कुछ क्षेत्रों को छोड़कर ग्रीन जोन में सभी प्रकार की गतिविधियाँ शुरू हो गई हैं इसके कारण लोगों की जवाबदारी और बढ़ गई है। सभी को सतर्कता बरतनी होगी। व्यापारी और आम नागरिक नियमों का पालन करें, जिससे कोरोना संक्रमण से बचा जा सके।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.