कोरोना से जंग / माता-पिता और एक साल की बेटी ने कोरोना को हराया, मोखामाल की युवती भी हुई स्वस्थ

Parents and one-year-old daughter beat Corona, Mokhamal's young woman also healthy

बैतूल. शुक्रवार का दिन कोरोना संक्रमण के लिहाज के हिसाब से राहत देने वाला रहा। एक दिन में चार कोरोना संक्रमित की लगातार दो रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद स्वस्थ हाेने पर उन्हें घर भेज दिया गया। घोड़ाडोंगरी की एक साल की बच्ची ने भी माता-पिता के साथ काेराेना से जंग जीत ली। वहीं मोखामाल पंचायत की छितरीबड़ की युवती भी स्वस्थ होकर घर लौटी। खास बात यह रही कि दो सैंपल निगेटिव आने के साथ ही अब स्वास्थ्य विभाग ने मरीजों का एक्स-रे करके उन्हें स्वस्थ घोषित करने की नई नियमावली लागू की। अब मरीजों के एक्स-रे करने के बाद ही एक्स-रे रिपोर्ट नार्मल होने पर ही उन्हें स्वस्थ घोषित किया जाएगा। अब जिले में मरीजों के स्वस्थ होने की दर 25 प्रतिशत हो गई है। 35 संक्रमितों में से 9 अब तक स्वस्थ हो चुके हैं। अब 26 केस ही एक्टिव हैं।
19 मई को शोभापुर में दंपती के साथ उनकी एक साल की बेटी भी पॉजिटिव मिली थी। 17 दिन में ही वह स्वस्थ हो गई। शुक्रवार स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें विदाई दी। इस अवसर पर जनपद सीईओ दानिश अहमद खान, तहसीलदार मोनिका विश्वकर्मा, बीएमओ संजीव शर्मा ने फल और मिठाई दी।null

इस तरह चला उपचार, हमीदिया भी भेजे गए
19 मई को कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने पहले घोड़ाडोंगरी में उपचार किया।
घोड़ाडोंगरी में चाइल्ड स्पेशलिस्ट नहीं होने के कारण तीनों को
जिला चिकित्सालय बैतूल रैफर किया गया।
वहां से इन तीनों को हमीदिया हॉस्पिटल भोपाल रैफर किया गया था।
हमीदिया में हुए उपचार के बाद तीनों स्वस्थ हो गए थे। उन्हें वापस घोड़ाडोंगरी भेज दिया था। शुक्रवार को घोड़ाडोंगरी में इन तीनों का स्वागत कर उन्हें विदाई दी।
पॉजिटिव रहने की जरूरत, तभी हरा पाएंगे कोरोना को
कोरोना से लड़ चुके इन माता-पिता ने बताया कि कोरोना से घबराने की जरूरत नहीं है। हमें पॉजिटिव रहने की जरूरत है, संक्रमित मरीजों के इलाज में अपनाए जा रहे तरीके और व्यवस्थाओं की भी इन्होंने जमकर तारीफ की। उन्होंने बताया कि इलाज करने वाले चिकित्सक, नर्स और समस्त स्टाफ का व्यवहार बहुत अच्छा था, अन्य सुविधाएं बहुत अच्छी थीं।

इस तरह चला मोखामाल की युवती का उपचार
बीएमओ डॉ. शैलेन्द्र साहू ने बताया कि युवती 17 मई को मुंबई पालघर से लौटी थी।
20 तारीख को उसका सैंपल लिया गया। 22 मई को पॉजिटिव रिपोर्ट आने पर उसे कोरोना केयर सेंटर शाहपुर में आईसोलेट किया।
1 जून को युवती का रिपीट सैंपल लिया गया। 5 जून को रिपोर्ट निगेटिव आने पर आज उक्त युवती को डिस्चार्ज किया।
अब तक ये भी हो चुके स्वस्थ
भैंसदेही के जाम मोहल्ले का निवासी कोरोना संक्रमित युवक।
तारा गांव के पिता-पुत्र ।
आठनेर में मुंबई से लौटी नर्स और हिवरा का युवक।

मोखामाल की युवती बाेली- सकारात्मक सोच के साथ बिना डरें करें मुकाबला
इधर शाहपुर- मोखामाल पंचायत के छितरीबड की युवती ने कोरोना से जंग जीतकर शुक्रवार अपने घर वापसी की। युवती की हौसला अफजाई करते हुए स्वास्थ्य विभाग ने “हम होंगे कामयाब”…गीत गाकर, पुष्पवर्षा कर ताली बजाकर रवाना किया। युवती ने इस लड़ाई में जीत का श्रेय शाहपुर के स्वास्थ्य विभाग की टीम को दिया। युवती ने बताया कि उसने दाल-चावल, हरी सब्जी एवं प्रोटीन युक्त डाइट ली। थोड़ी एक्सरसाइज की एवं डाक्टर्स के निर्देशों का पालन किया। कोरोना पर विजय पा ली। इस माैके
पर डॉ. गजेन्द्र यादव, डॉ. विजय सिंह, बीईई भगतसिंह, राजेंद्र टांडेकर, राधा गोविंद शुक्ला, बल्देव नागले, क्रांति यादव समेत पैरामेडिकल स्टाफ ने युवती की हौसला अफजाई की।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.