7 दिन में 5 लूट / कंटेनमेंट एरिया में घर में घुसकर महिला का गला दबाया, चाकू अड़ाकर लूट ले गए कैश और जेवर

Woman entered into the containment area and strangled the woman, stole a knife and looted cash and jewelry

बेखौफ बदमाशों ने बरखेड़ी में दिनदहाड़े की वारदात, छत की चाबी मांगने के बहाने खुलवाया था दरवाजा

भोपाल. सबसे संवेदनशील कंटेनमेंट एरिया जहांगीराबाद स्थित बरखेड़ी में दो बदमाशों ने दिनदहाड़े घर में घुसकर लूट की वारदात को अंजाम दिया है। दूसरी मंजिल पर बने इस फ्लैट का दरवाजा बदमाशों ने छत की चाबी मांगने के बहाने खुलवाया। घर में घुसते ही बदमाशों ने गला दबाते हुए महिला को चाकू अड़ा दिया। दुपट्‌टे से उसका चेहरा बांधकर अलमारी में रखे पांच हजार रुपए और जेवर लूट लिए। इस दौरान बदमाशों ने महिला की सास को बाथरूम में बंद कर दिया था। हालांकि, जहांगीराबाद पुलिस को ये कहानी गले नहीं उतर रही है। तर्क ये है कि घर के सामने ही लगे सीसीटीवी कैमरे में वारदात से पहले और बाद में कोई आता-जाता नजर नहीं आ रहा है। अनलॉक के बाद राजधानी में 7 दिन में ये पांचवीं लूट है।

रविवार सुबह 11 बजे ये वारदात फरहान अपार्टमेंट, बरखेड़ी निवासी अतीक उर रहमान की पत्नी खनशा नाज के साथ हुई। उनके छोटे भाई रियाज ने बताया कि यहां हम तीन भाई, भाभी और अम्मी वहीदा बी रहते हैं। घटना के वक्त घर पर अम्मी और भाभी थीं। 16 फ्लैट की इस मल्टी में छत की चाबी हमारे घर पर रहती है। सुबह 11 बजे दो लड़कों ने छत की चाबी मांगी। दरवाजा खुलते ही उनमें से एक ने भाभी का दुपट्‌टे से गला दबा दिया और दूसरे ने चाकू अड़ा दिया।

अलमारी से निकाली रकम…

रियाज के मुताबिक घटना के वक्त अम्मी बाथरूम में थीं। बाहर से बाथरूम का दरवाजा बंद कर दोनों भाभी को बेडरूम में ले गए। यहां अलमारी खंगाली। कुछ नहीं मिला तो दूसरे बेडरूम में ले गए और अलमारी में रखे पांच हजार रुपए व जेवर लूट लिए। तभी उनके पास कोई कॉल आया और दोनों बात करते हुए घर से बाहर निकल गए।

हाथ में जख्म, बीपी भी बढ़ा, अस्पताल में भर्ती
रियाज ने बताया कि छीना-झपटी में भाभी के हाथ में चूड़ी टूटने से जख्म हुआ है। गला दबने के कारण भी उनकी तबीयत बिगड़ गई थी। उन्होंने वारदात की सूचना पड़ोसियों को दी। पड़ोसी ने ही अम्मी को भी बाथरूम से बाहर निकाला। वारदात की सूचना पर जहांगीराबाद पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने फिलहाल अज्ञात बदमाशों के खिलाफ घर में घुसकर लूट का केस दर्ज कर लिया है।

टीआई बोले- वारदात के नहीं मिले प्रमाण
टीआई वीरेंद्र सिंह चौहान के मुताबिक अतीक के पड़ोस वाले मकान में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। इसमें वारदात से 4 घंटे पहले महिला-पुरुष सफाईकर्मी बिल्डिंग में आते हुए नजर आ रहे हैं। कुछ देर बाद ही दोनों चले भी गए। इसके बाद बिल्डिंग में कोई आता-जाता नजर नहीं आ रहा है। हालांकि, पुलिस इसे घर में घुसकर हुई लूट मानकर ही पड़ताल कर रही है। अब तकनीकी पहलुओं पर जांच के बाद ही बदमाशों तक पहुंचा जाएगा।

बिना मास्क के ग्राहक का चेहरा कैमरे के सामने लाने की हो व्यवस्था : डीजीपी

लाॅकडाउन के अनलाॅक होने के साथ ही संपत्ति संबंधी अपराधों का ग्राफ बढ़ेगा। ऐसे अपराधों को रोकने और अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस ने प्रयास शुरू कर दिए हैं। डीजीपी विवेक जौहरी ने सभी एसपी को निर्देश दिए हैं कि वे कलेक्टर से चर्चा कर ऐसी व्यवस्था कराएं कि माॅल, सराफा बाजार, बैंक आदि स्थानों में जाने वाले ग्राहक का चेहरा एक बार बिना मास्क के सीसीटीवी कैमरे के सामने लाया जा सके, जिससे यदि कोई घटना होती है तो अपराधी की पहचान हो सके।

पेट्रोल पंप पर डकैती की थी तैयारी

क्राइम ब्रांच ने पेट्रोल पंप पर डकैती से पहले ही आठ सदस्यीय गिरोह को धरदबोचा। उनके दो साथी फरार हो गए। पूछताछ में खुलासा हुआ कि ये गिरोह उप्र, हरियाणा और मप्र के कई शहरों में अपराध कर चुका है। एएसपी निश्चल झारिया के मुताबिक शनिवार को मिली एक सूचना के बाद भानपुर कचरा खंती स्थित जैविक खाद्य बनाने वाली मशीन के पास ये दबिश दी गई थी। पुलिस जब पहुंची तो ये सभी चोपड़ा के पास एक सरदार के पेट्रोल पंप पर डकैती की प्लानिंग कर रहे थे। पुलिस ने इनमें से आठ को तो पकड़ लिया, लेकिन दो भागने में कामयाब हो गए। पकड़े गए आरोपियों में भानपुर निवासी हसनी अली, आजम जाफरी, गुलाम अली, साहिल अब्बास, अली हैदर, तनवीर खान, मुख्तार खान और अबुत राय शामिल हैं।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.