बहुजन क्रांति मोर्चा एवं प्रसपा ने संयुक्त रुप से किसानों की पट्टे की भूमि का कब्जा दिलाये जाने हेतु सौंपा ज्ञापन

बहुजन क्रांति मोर्चा एवं प्रसपा ने संयुक्त रुप से किसानों की पट्टे की भूमि का कब्जा दिलाये जाने हेतु सौंपा ज्ञापन


सीहोर। बहुजन क्रांति मोर्चा एवं प्रसपा से जुड़े लोगों ने अनुविभागीय कार्यालय इछावर पहुंचकर अनुसूचित जाति/जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग पर हो रहे अन्याय अत्याचार को लेकर डॉली रैकवार नायब तहसीलदार को महामहीम राज्यपाल के नाम संयुक्त रुप से ज्ञापन सौंपा। भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजेश मालवीय ने बताया कि ज्ञापन का वाचन प्रजातांत्रिक समाधान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमल सिंह चौहान ने करते हुए बताया कि सन् 2000 के लगभग प्रदेश के अनुसूचित जाति, जनजाति के लोगो को तत्कालिन सरकार ने भूमि के पट्टे वितरीत किए थे । आजतक हजारो परिवारो को भूमि पर कब्जा नही मिला कई लोगो की हत्या हो गई । कई लोगो के हाथ पैर तोड़ दिए गए । इसी क्रम में पूर्व राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा के विधानसभा क्षेत्र लसूडिया कांगर व कालापीपल तह , इछावर जिला सीहोर के अनु . जाति जनजाति के परिवारो के लोग आज भी कागज के टुकड़ो को लेकर थाना, तहसील व जिले के अधिकारीयो के चक्कर काट रहे है । उन्हें आज तक भूमि पर कब्जा नही मिला । उस भूमि पर आज भी राजनैतिक , सामाजिक व आर्थिक रूप से प्रभावशाली लोग काबिज है । ऐसे सीहोर जिले के पीडि़त अनुसूचित जाति, जनजाति के परिवारों का तत्काल इनकी भूमि का कब्जा दिया जाये व पीडि़त परिवारों को सुरक्षा देकर प्रताडित करने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्यवाही की जाये। साथ ही शाहपुरा तह . इछावर जिला सीहोर में अनुसूचित जाति के गरीब किसान फुलसिंह के पट्टे की भूमि को स्थानीय सरपंच द्वारा जबरन कब्जा कर उसमें तालाब का निर्माण कराया जा रहा है। उक्त जमीन पर तलाब निर्माण किया गया और गरीब वहां से हटाया गया तो उनके समर्थन में सामाजिक संगठनों द्वारा आंदोलन किया जावेगा। गंभीर ज्वलनशील समस्याओं का निराकरण किया जावे।
ग्राम कालापीपल एवं लसूडिय़ा के अनुसूचित जाति, जनजाति के किसानों के समर्थन में पूर्व में जिला प्रशासन, जनप्रतिनिधियों को ज्ञापन के माध्यम से सामाजिक संगठनों ने अवगत कराया है एवं पूर्व राजस्व मंत्री करण सिंह वर्मा के निवास पर धरना भी दिया गया था, इसके पश्चात भी शासन व प्रशासन अनसुनी कर रहे हैं। ज्ञापन में स्पष्ट रुप से यही भी चैतावनी दी गई है कि एक सप्ताह के अन्दर पीडि़त किसानों को कब्जा नही दिलाया गया और शासन व प्रशासन अनदेखी करते हैं तो हमें विवश होकर एक सप्ताह पश्चात जिला कलेक्ट्रेट सीहोर का हजारों की संख्या में उपस्थित होकर सामाजिक संगठनों के नेतृत्व में घेराव किया जावेगा। घेराव के दौरान किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न होती है तो इसकी जवाबदारी शासन, प्रशासन की होगी। ज्ञापन सौंपने वालों में प्रमुख रुप से प्रसपा के प्रदेश प्रवक्ता जगदीश द्रविड़, भारतीय युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष जनम सिंह परमार, जनपद सदस्य बंशीलाल बाम्बे, बीएमपी के जिलाध्यक्ष जितेन्द्र मालवीय, किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष एस.एन.तोमर, प्रसपा के जिला सचिव मदन सिंह भदोरिया, भारतीय विद्यार्थी मोर्चा के मनीष पिपलोदिया, संजय भारती, बीएमपी के इछावर तहसील अध्यक्ष अरविन्द मालवीय, गौरव दुगारिया, बलवानसिंह, सुरेश, संजय मालवीय, रामगोपाल, प्रदुम्य, गेंदालाल, बाबूलाल, शिवनारायण, राजाराम, नर्बदसिंह, अशोक सहित बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित रहे।
भवदीय

Leave a Reply