ऑपरेशन माफिया के अंतर्गत जिले में होगी कड़ी कार्यवाही

कार्यवाही में व्यक्तिगत द्वेषता न देखकर पुर्ण योजना के साथ कार्यवाही करें – कलेक्टर

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा म.प्र.शासन द्वारा विडियो कांफ्रेंस के माध्यम से दिये गये निर्देशों के अनुक्रम में कलेक्टर श्री मनोज पुष्प की अध्यक्षता में ऑपरेशन माफिया अंतर्गत सुशासन भवन स्थित सभाकक्ष में बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सिद्धार्थ चौधरी, सीईओ जिला पंचायत ऋषव गुप्ता, अपर कलेक्टर श्री बीएल कोचले, एडिशनल एसपी पुलिस एवं एडिशनल एसपी नारकोटिक्स, एसडीएम मल्हारगढ़, गरोठ व सीतामऊ, समस्त तहसीलदार एवं अन्य जिला अधिकारी मौजूद थे।

बैठक के दौरान कलेक्टर द्वारा निर्देश दिए गए कि ऑपरेशन माफिया के अंतर्गत पूरे जिले में सख्त कार्यवाही की जाए । ऑपरेशन माफिया की कार्यवाही के अंतर्गत इस बात का विशेष तौर पर ध्यान रखा जाए कि कार्यवाही व्यक्तिगत द्वेशता रख कर नही की जाए। कार्यवाही व्यवस्थित प्लान से प्रारंभ कर समाप्त की जाए । जिले में संगठित अपराध पर सबसे पहले कार्यवाही करें । संगठित अपराध जिले से पूरी तरह समाप्त होना चाहिए । कार्यवाही में बड़े तस्कर जो माफियाओं से जुड़े हैं उन पर कार्यवाही करें । झोपड़ी में रहने वाले सीधे साधे निवासियों को बिल्कुल भी परेशान ना करें।

बैठक के दौरान जिला अधिकारियों से विभागवार ऑपरेशन माफिया अंतर्गत जानकारी भी ली गई। बैठक के दौरान आबकारी विभाग को निर्देश देते हुए कहा गया कि कुख्यात शराब तस्करों पर कार्यवाही करें । इसके लिए अपराधी वर्ग के लोगों को चिन्हित करें। जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा गया कि, वाहन चेकिंग के दौरान गैस किट एवं अन्य चीजें भी देखें । पीडीएस की गाड़ियों को भी समय-समय पर चेक किया जाए। सभी तहसीलदारों को निर्देश देते हुए कहा गया कि माफियाओं को नोटिस देने के प्रभावी कार्यवाही करें। इसके अंतर्गत पहले लोगों को चिन्हित करें। उसके पश्चात उनकी प्रॉपर्टी को चिन्हित कर उनकी संपत्ति पर सख्त कार्यवाही करें । अवैध संपत्ति को तुरंत नष्ट करें। हाईवे पर बनाए गए अवैध ढाबों पर किसी भी ट्रक को नहीं रुकने दें। सभी एसडीएम इसके लिए प्लानिंग तैयार करें। सूदखोरी एवं चिटफंड पर भी कार्यवाही प्रारंभ करें। सूदखोरी से पीड़ित व्यक्ति का पहले आवेदन लेके उसके पश्चात सूदखोरों पर कठोर कार्यवाही प्रारंभ करें।

Leave a Reply