नाग-नागिन की सच्ची कहानी

ग्वालियर के ट्रांसपोर्ट नगर में 2015 में घटी थी यह घटना ट्रक से कुचलकर हो गई थी नाग की मौत

साल 2015 में ग्वालियर के ट्रांसपोर्ट नगर में गेट नंबर 1 के पास ट्रक से कुचलकर नाग की मौत हो गई थी। उस समय नाग-नागिन दोनों रोड पार कर रहे थे। नाग की मौत के बाद नागिन,नाग की मौत वाली जगह पर बैठी रही ।लोगों ने नागिन को हटाने का खूब प्रयास किया लेकिन वह रोड से नहीं हटी। जिसके कारण आगरा-मुंबई हाईवे के दोनों और जाम लग गया फिर प्रशासन ने नाग-नागिन पकड़ने वालों को बुलाकर नागिन को वहां से हटवा कर जंगल में छुड़वा दिया। लेकिन अगले ही दिन नागिन ने उसी जगह पर आकर दम तोड़ दिया । यह कहानी नहीं एक हकीकत है। बाद में नाग नागिन के देश प्रेमी जोड़े का मंदिर बनवाया गया जहा हिंदू मुसलमान एक साथ उनकी पूजा करते हैं।

नाग पंचमी के दिन हर साल यहां धूमधाम से मेले का आयोजन किया जाता है लेकिन इस बार लोक डाउन के चलते प्रशासन ने केवल पूजा करने की अनुमति दी है।

काल्पनिक छायाचित्र

Leave a Reply