दिल्ली के शातिर ठगो को पकडा कोलार पुलिस ने।

1. दिल्ली के शातिर ठगो को पकडा कोलार पुलिस ने।

2. ब्राण्डेड मोबाइल को सस्ते में देने का झांसा देकर करते थे ठगी।

3. मोबाइल के बाक्स में भरते थे गत्ते के टुकडे और पत्थर।

4. मध्यप्रदेश से कुल 170 लोग धोखाधडी के शिकार।

5. मध्यप्रदेश के अन्य जिलो में भी एफआईआर की प्रक्रिया जारी।

घटना का विवरण :- दिनांक -28/08/2020 को आवेदक कुबेर निवारे निवासी राजहर्ष कालोनी कोलार रोड़ भोपाल जो कि प्रायवेट नौकरी करते है ने शिकायत की, कि उनके मोबाइल पर अनजान मोबाइल नम्बर से काल आया और बात करने वाले ने अपने आप को एमआई रेडमी कंपनी का रिप्रेजेन्टेटिव बताते हुये आँफर के तहत रेडमी नोट एट/टू मोबाइल फोन जिसकी असल कीमत करीबन 25000/- रुपये है को मात्र 4500/- रुपये में देने का बताया और पेमेन्ट डिलीवरी के बाद करना बताया।

फिर दिनांक 03/08/2020 को आवेदक के घर पर पोस्टमेन एक पैकेट लेकर आया जिसे आवेदक 4500/- रुपये का पैमेन्ट कर प्राप्त किया। जब आवेदक नें पैकेट को खोला तो उसके अंदर मोबाइल के स्थान पर गत्ते के टुकडे रखे मिले। जिसके बाद आवेदक शिकायत आवेदन दिया गया।

कैसे देते थे वारदात को अंजाम :-

शिकायत आवेदन की जाँच पर तथ्यो की पुष्टी होना पाये जाने से अपराध क्र 1514/20 धारा 420,34 भादवि का पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना में लिया गया। जिसमें पतारसी कर जानकारी जुटाई गई कि दिल्ली में बैठकर इस गिरोह के लोग ठगी करते है।

संदेहियो की तलाश पतारसी हेतु श्री साई कृष्णा थोटा पुलिस अधीक्षक दक्षिण भोपाल, श्री रजत सकलेजा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन 01 द्वारा निर्देश दिये गये और पुलिस टीम का गठन किया जाकर टीम को दिल्ली भेजा गया।
कोलार पुलिस टीम द्वारा लगातार दो दिन तक दिल्ली में रहकर संदेहियो की मोबाइल लोकेसन से पीछा करती रही तद्उपरांत पुलिस टीम द्वारा घेराबंदी कर इनको पकडा गया संदेही (1) अनाम हैदर (2) जफर खान से की गई पूछताछ में सामने आया कि आरोपीगण ने नांगलोई, नजबगढ रोड़ नई दिल्ली में किराये का मकान लेकर रखा था और वही से लोगो को ब्राण्डेड मोबाइल आफर के तहत सस्ते में बेचे जाने का झांसा देते थे जब व्यक्ति मोबाइल लेने के लिये राजी हो जाता तो उसका पता लेकर मोबाइल पैकेट के आकार का एक पैकेट तैयार कर डाक से भेज देते थे जो पैकेट डाक से खरीददार के घर पहुंचता था और खरीददार मोबाइल की कीमत डाकिया को दे देता था फिर आरोपी अपने संबंधित डाकघर से उस रकम को ले लेते थे।

पूछताछ में आरोपीगण नें यह भी बताया कि वह गूगल पर किसी भी मोबाइल कंपनी के सिम नम्बर की सीरीज डालकर कुछ मोबाइल नम्बर हासिल कर लेते थे फिर उन्ही मोबाइल नम्बरो के आगे पीछे अंक बदलकर लोगो को आफर के नाम पर सस्ते में मोबाइल देने का झांसा देकर धोखाधड़ी करते थे।

आरोपीगण ने बीकाँम तथा बीकाम (आनँर्स) की पढाई दिल्ली विश्वविघालय से की है जो मूलतः दरभंगा बिहार के रहने वाले है। जो कि इस तरह का धंधा चलाने के मास्टर माइंड है। आरोपीगण द्वारा लोगो से साथ धोखाधडी कर दिल्ली में ही अपने-अपने मकान भी बना लिये है। आरोपीगण काफी समय से इस प्रकार के गोरखधंधे में लिप्त थे तथा कई लोगो को चूना लगा चुके है। इन्हे स्वयं भी याद नही कै कि इन्होने कितने लोगो के साथ ठगी की है।

जनरल पोस्ट आफिस कश्मीरी गेट दिल्ली से प्राप्त डिटेल्स के आधार पर ठगी के शिकार म.प्र. के कुल 170 व्यक्तियो की सूची कोलार पुलिस ने विवेचना के दौरान संकलित की है जिसके माध्यम से ठगी के शिकार व्यक्तियों की पतारसी कर उनसे अन्य थानों मे एफआईआर करवायी जा रही है ।

श्री साई कृष्णा थोटा पुलिस अधीक्षक दक्षिण भोपाल एवं श्री रजत सकलेजा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन 01 द्वारा आसपास के जिलो में सूचना देकर इस प्रकार के अपराध के शिकार हुये कुल 170 व्यक्ति मध्यप्रदेश के विभिन्न जिलो से है भोपाल में कुल 05 व्यक्ति के साथ धोखाधडी करना पाया गया जिनमे से थाना कोलार के अलावा थाना निशातपुरा, थाना ऐशबाग मे इन आरोपीगणो के विरूद्ध प्रकरण पंजीबद्ध किये जा चुके है तथा थाना वेरसिया व थाना स्टेशन बजरिया मे अपराध पंजीबद्ध होना शेष है।

श्री साई कृष्णा थोटा पुलिस अधीक्षक दक्षिण भोपाल एवं श्री रजत सकलेजा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जोन 01 द्वारा आसपास के जिलो में सूचना मध्यप्रदेश के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियो को दे दी गयी है तदउपरांत जिला विदिशा, छतरपुर, झाबुआ मे भी इन आरोपियो के विरूद्ध प्रकरण दर्ज करने की प्रक्रिया जारी है आरोपीगण से अन्य मामलो का खुलासा होने की भी पूर्ण संभावना है। वरिष्ठ अधिकारियो द्वारा इस कार्यवाही में लगी टीम को नगद इनाम से पुरुस्कृत करने की घोषणा की है।

जप्त किया गया सामान :-

आरोपीगण से 03 मोबाइल फोन, 03 सीपीयू, जीपीओ दिल्ली से आरोपियो की एकाउंट डिटेल, पैक किये हुये पार्सल के डिब्बे, कस्टमर के नाम पते, मोबाईल नं. लिखे हुये रजिस्टर तथा उनके आफिस से कई ब्राण्डेड कंपनियो के मोबाइल फोन के कवर और पैकेट जप्त किये गये है।

गिरफ्तार किये गये आरोपी :-

  1. अनाम हैदर पिता हैदर अली उम्र 25 वर्ष निवासी बी 464 इन्दर एन्क्लेव, फेस 2, किरारी सुलेमान नगर नई दिल्ली 86
  2. जफर खान पिता मोह. जावेद उम्र 24 वर्ष निवासी बी 1/12 शीशमहल एन्क्लेव प्रेमनगर 3 किरारी सुलेमान नगर नई दिल्ली 86

महत्वपूर्ण योगदान :- निरीक्षक सुधीर अरजरिया, उनि मनोज रावत, सउनि अनिल कुमार, आर. 986 धर्मेन्द्र रघुवंशी, आर.3352 पुष्पेन्द्र भदौरिया (टैक्नीकल सेल) ।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.