गुस्से में आए मुख्यमंत्री शिवराज, उज्जैन SP को हटाया, CSP निलंबित, आधा दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज

उज्जैन(मध्यप्रदेश)
मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले में जहरीली शराब पीने से 14 लोगो की मौत ने राज्य में हड़कंप मचा कर रख दिया। वही मध्यप्रदेश में उपचुनाव की चल रही तैयारी के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान कोई भी गलती नहीं करना चाहते है.मामले को तूल पकड़ता देख शिवराज ने उज्जैन SP को हटाते हुए, शहडोल SP को Ujjain की कमान सौंपी है. जबकि CSP रजनीश कश्यप को भी तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है.आपको बता दे की बीते दिनों उज्जैन नगरी में जहरीली शराब पीने से 14 लोगो की जान चली गई थी जिसके बाद मामला केंद्र सरकार तक पंहुचा था और केंद्र के द्वारा दिए गए दवाब में शिवराज सरकार ने मामले की जांच एसआईटी को सौंपी गई थी.
जांच समिति ने सौंपी रिपोर्ट, SP-CSP पर गिरी गाज
राज्य सरकार द्वारा गठित जांच समिति के प्रमुख और अतिरिक्त प्रमुख सचिव गृह डॉ राजेश राजौरा ने 2 दिन की जांच के बाद रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को जांच का सारा ब्यौरा दिया. इसके बाद दोनों अफसरों को सरकार ने हटाने का फैसला किया.मामले में सिकंदर, यूनुस, गब्बर सहित खाराकुआ थाने के 2 पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। दरअसल पूरी घटना में पुलिसकर्मियों की भूमिका काफी संदिग्ध नजर आ रही है जिसके बाद पुलिसकर्मियों पर भी कार्रवाई की जा रही है.
सतेंद्र शुक्ला (IPS) को उज्जैन की कमान
शिवराज सरकार ने मामले में एक्शन लेते हुए उज्जैन SP मनोज कुमार सिंह का तबादला कर दिया है. जारी तबादला आदेश के अनुसार मनोज कुमार सिंह (IPS-2010) को सहायक पुलिस महानिरीक्षक, पुलिस मुख्यालय भोपाल में पदस्थापित किया गया है. जबकि शहडोल एसपी IPS-2009 सतेंद्र कुमार शुक्ला को उज्जैन की कमान सौंपी गई है. अवधेश कुमार गोस्वामी (IPS-2009) को शहडोल भेजा गया है.
msnews network

Leave a Reply