माचलपुर शनिवार को नगर की बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर की दादागिरी महिलाओं से भी की जाती है बत्तमीजी से बात

माचलपुर शनिवार को नगर की बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर की दादागिरी महिलाओं से भी की जाती है बत्तमीजी से बात

माचलपुर :- माचलपुर नगर की बैंक ऑफ इंडिया में किसान बहुत परेशान हो रहे है शाशन के दुवारा आयी बीमा राशि को लेकर बैंक मैनेजर दुवार एक दिन में मात्र 15 , 20 टोकन ही किसानों को दिये जा रहे है जिससे किसान बेचारा सुबह से भूखा प्यास दूर दराज से आता है ओर टोकन फिर भी नही मिल पाते है जिससे बेचारे किसानो को काफी परेशानियों का सम्मना करना पड़ता है यही नही इस बैंक में पदस्थ मैनेजर का व्यवहार भी किसानों व बैंक में आने वाली महिलाओं के प्रति ठीक नही है क्योंकि माचलपुर समीप गांव की रजनी शर्मा ने बताया कि में दो दिनों से बैंक के चक्कर लगा रही हु लेकिन बैंक मैनेजर दुवारा मुझ से बत्तमीजी से बात की गई है मतलब इनको महिलाओं से कैसे बात की जाना चाहिए यह तमीज भी नही है मेरे दुवारा इस बात की शिकायत शाशन की चलाई गई शिकायत योजना 181 पर भी शिकायत की जा चुकी वही नगर व गांवो से आये किसान परमानंद दुलेसिंह सरावत कुमड़ी बालचन्द रजनी बाई आदि ने बताया कि बैंक मैनेजर बहुत बत्तमीजी से बात करते है और हमे शर्मिंदा होना पड़ता है और यही नही बांच के बैंक मैनेजर व पूरे स्टॉफ के लोगो दुवारा शाशन की सभी गईड लाईन को ताक पर रखा जा रहा है पूरे बैंक परिसर में सभी लोग बिना मास्क के घूमते फिरते नजर आ रहे जब बैंक में देखा गया तो बैंक मैनेजर ने अपने मुँह पर मास्क लगा रखा नही बैंक में इनके दुवारा शोशल डिस्टेंसिह का पालन करवाया जा रहा है ओर सबसे बड़ी बात तो यह है कि नारी शक्ति का अपमान जो बेक ऑफ इंडिया के मैनेजर के दुवारा किया गया जो गलत है मतलब इससे साफ पता चलता है कि मेनेजर साहब जब एक महिला के साथ ऐसा व्यवहार कर सकते है तो पुरुषों से क्या ढंग से बात करते होंगे एक ओर सरकार नारीयो के सम्मान की बात करती है ओर दुशरी ओर अधिकारियों के दुवारा उनका अपमान क्यो किया जाता है ऐसे अधिकारियों पर ठोस कर्यवाही होना चाहिये जो नारियो का अपमान करते है

इस बात की चर्चा जब बैंक मैनेजर से पत्रकार दुवारा की गई तो उन्होंने उनके साथ भी अभद्रत से पेश आये और बोले तुमसे बने जो कर लेना।

नीलेश मालवीय की रिपोर्ट …

Leave a Reply