यूपी पंचायत चुनाव 2020 : ग्राम प्रधान इलेक्शन के लिए शुरू हुआ मतपेटियों की सफाई व रंगाई का काम

DG news उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के वोटर पुनरीक्षण के बीच इलेक्शन की तैयारियों में जिला प्रशासन जुट गया है। प्रतापगढ़ सहित कई  जिलों में भीत्रिस्तरीय चुनाव को लेकर सारी तैयारियां शुरू हो गई हैं। वोटिंग के लिए सालों से बेकार पड़ी मतपेटिकाओं की साफ-सफाई का काम शुरू कर दिया गया है। अधिकारियाें का कहना है कि शासन से निर्देश मिलते ही मतपेटिकाओं का रंगरोगन काम शुरू हो जाएगा। निर्वाचन आयोग द्वारा इस बार भी पंचायत चुनाव बैलट पेपर के संकेत है, ऐसे में मतपेटिका की जरूरत होगी।वहीं कौशांबी में उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत ने विकास खंडवार मतपेटियों की उपलब्धता की रिपोर्ट मांगी है। निर्देश के बाद ब्लॉकों में तैनात सहायक विकास अधिकारी उपयोगी मतपेटियों की संख्या की रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं।

बता दें कि इस समय राज्य निर्वाचन आयोग उत्तर प्रदेश के निर्देश पर ग्राम पंचायत निर्वाचन नामावली का वृहद पुनरीक्षण का कार्य तेजी से चल रहा है। 12 नवंबर तक बीएलओ घर घर जाकर नए मतदाताओं को जोड़ने व मृतक मतदाताओं का नाम विलोपन का कार्य करना है। तैयार पुनरीक्षण सूची कंप्यूटर में फीडिग कर 29 दिसंबर को अंतिम मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाएगा। इसी बीच 25 दिसंबर को ग्राम प्रधानों का कार्यकाल भी समाप्त हो रहा है। इसके मद्देनजर राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देश पर तेजी से आवश्यक सभी प्रपत्र तैयार किए जा रहे हैं। इधर कौशांबी में उप जिला निर्वाचन अधिकारी पंचायत मनोज कुमार ने सहायक विकास अधिकारियों से पांच नवंबर तक सफाई व रंगाई के बाद उपयोगी मत पेटिकाओं की संख्या रिपोर्ट मांगी है। खंड विकास अधिकारी चायल विजय शंकर त्रिपाठी ने बताया कि ब्लाक में मतपेटियां डंप हैं। कुछ मतपेटियों में जंग लगने से सड़ गल गई हैं। मरम्मत करवाने के बाद कितना कामयाबी मिलेगी इसकी रिपोर्ट उप जिला निर्वाचन अधिकारी भेजी जाएगी

Leave a Reply