अशोका गार्डन में रहने वाले आदिल वहाब की हत्या की ओर बिये एक न्यूज चैनल में रिपोर्टर थे।….

अशोका गार्डन में रहने वाले आमिर वहाब ने बताया की उनके 36 वर्षीय भाई आदिल वहाब एक न्यूज चैनल में रिपोर्टर थे। कल दोपहर 2 बजे से उनका कुछ पता नहीं चल रहा था। उनका मोबाइल फोन भी बंद आ रहा था। भाई के बारे में कुछ भी पता नहीं चलने के कारण उन्होंने अशोका गार्डन पुलिस थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई। देर रात उन्हें सूखी सेवनिया पुलिस से भाई के बारे में पता चला।

उन्होंने बताया कि लाश बरखेड़ी के पास मिली। आज पुलिस उनका पोस्टमार्टम करवा रही है। हालांकि इस बारे में हमें अभी पुलिस ने ज्यादा कुछ बताया नहीं हैं। भैया को किसने मारा? वह वहां कैसे पहुंचे? इन सवालों के हमारे पास कोई जवाब नहीं है। पुलिस भी अभी कुछ नहीं बता रही है।

सुखी सेवनिया पुलिस के अनुसार वहाब की लाश बरखेड़ी में एक गोशाला के पास दोपहर 3 बजे मिली थी। उसके सिर को किसी भारी चीज से कुचला गया था। लाश के आसपास कुछ नहीं मिला। न तो वहां कोई गाड़ी थी और ना ही कुछ और। देर शाम अशोका गार्डन पुलिस से गुमशुदगी की जानकारी मिली। उसके बाद परिजनों ने ही मौके पर पहुंचकर कपड़ों की मदद से वहाब की शिनाख्त की।

पुलिस के अनुसार वहाब की हत्या के बाद शव वहां फेंका गया है। क्योंकि पास में न तो कोई वहाब की गाड़ी मिली और न ही कोई सामान ही है। ऐसे में संभावना यह है कि उसकी हत्या कहीं और की गई। इसके बाद छिपाने के लिए यहां पर शव फेंक दिया गया। या फिर कोई परिचित उसके साथ वहां तक आया और हत्या के बाद वह सभी कुछ ले गया।

Leave a Reply