1 मई से 18 साल की उम्र का हर शख्स लगवा सकेगा कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली। कोरोना टीकाकरण के एक मई से शुरू होने वाले तीसरे चरण सभी व्यस्क टीका लगवाने के पात्र होंगे। सरकार ने सोमवार की शाम को इस आशय की घोषणा की। प्रधानमंत्री नरेंद्र ने इस उच्च स्तरीय बैठक की अध्यक्षता की। देश में कोरोना महामारी का दूसरा दौर विकराल रूप धारण करता जा रहा है और पिछले पांच दिनों से दो लाख से अधिक नये मामले सामने आ रहे हैं।

एक रिपोर्ट में कहा गया है कि राष्ट्रीय कोरोना टीकाकरण कार्यक्रम की त्वरित चरण 3 रणनीति के तहत, वैक्सीन निर्माता टीके की खुराक की 50 प्रतिशत केंद्र को आपूर्ति करेंगे, जबकि बाकी राज्यों और खुले बाजार में दी जा सकती है। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि निर्माताओं को राज्यों और खुले बाजार के लिए निर्धारित 50 प्रतिशत टीकों के लिए अग्रिम में अपनी मूल्य सूची जारी करनी होगी।

यह चैनल ना केवल वयस्कों के लिए खुला रहेगा, बल्कि स्वास्थ्य सेवा और फ्रंटलाइन कार्यकर्ता और 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग सरकार द्वारा संचालित टीकाकरण केंद्रों पर मुफ्त में वैक्सीन प्राप्त करना जारी रख सकते हैं। भारत में विभिन्न चरणों में जनवरी के मध्य में टीकाकरण अभियान शुरु किया गया।

पहले स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों और अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं के अलावा 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को सरकारी कोरोना केंद्रों में मुफ्त में टीके दिये जा रहे हैं। देसी रुप से विकसित वैक्सिन कोवैक्सिन और यूके के एस्ट्राजेनेका वैक्सीन जिसे कोविशिल्ड कहा जाता है – वर्तमान में लोगों को दिया जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के मुताबिक अब तक देश में 12,38,52,566 कोरोना टीके दिये जा चुके हैं।

Leave a Reply