पीड़ित व्यक्ति उपचार के लिए दर-दर भटक रहा है भाजपा के नेता और प्रभारी बंगाल चुनाव में व्यस्त हैं – श्री अहीर


नीमच। कोविड महामारी की रोकथाम और उपचार के लिए जिले स्तर पर अव्यवस्था चरम पर है। नीमच जिले के तीनों विधायक और सांसद भाजपा में हैं, प्रदेश व केंद्र में शासन भी भाजपा का है साथ ही जिन्हे कोविड के उपचार का प्रभारी भी ओमप्रकाश सकलेचा को बनाया है ।आम व्यक्ति अपने उपचार के लिए दर-दर भटक रहे हैं । कहीं आक्सीजन नहीं, तो कहीं बिस्तर नहीं, कहीं रेमडिसिवर इंजेक्शन की उपलब्धता नहीं। पूरे जिले में शवो की लाइन लग रही है और हमारे जिले के प्रभारी श्री ओमप्रकाश सकलेचा बंगाल चुनाव में व्यस्त हैं ओर वही वाही लूट रहे हैं उन्हें आने वाले चुनावों में जनता सबक सिखाएगी। सकलेचा को जावद की जनता ने वोट दिए हैं ना कि बंगाल की जनता ने। उक्त आरोप जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष एवं जावद विधानसभा के प्रत्याशी राजकुमार जी ने लगाया। सांसद गुप्ता और विधायकगण निर्माण कार्यों में करोड़ों की राशि का विकास कार्य के लिए उद्घाटन और शिलान्यास के फोटो छपवा रहे हैं। नहीं चाहिए ऐसा विकास जब जनता जीवित ही नहीं रहेगी तो उसका विकास का क्या फायदा है। श्री अहीर ने बताया कि देश में ऑक्सीजन की उपलब्धता है जरूरत है केवल परिवहन की और ऊंची राजनीति पहुंच की, साथ ही धन की उपलब्धता।
पहले 10 दिनों में इलाज और ऑक्सीजन के अभाव में 150-200 मौतें हो चुकी है। आपदा प्रबंधन की मीटिंग में भाजपा के जनप्रतिनिधि और उनकी हां में हां मिलाने वाले हजूरिया बैठे हैं। पीड़ित जनता की आवाज उठाने वाला कोई नहीं है। आनन-फानन में जो ऑक्सीजन प्लांट का काम शुरू हुआ है उसे आज से 6 माह पहले बनना चाहिए था। प्रधानमंत्री फंड से प्लांट बनाना चाहिए ना की जनता के पैसे से। विधायक और सांसद निधि से जो पैसे दे रहै है वह पैसा जनता का है। ना कि उनका निजी निधि है। इनको स्वयं को अपने पैसे से लाखों रुपए देना चाहिए। नीमच के शासकीय अस्पताल में प्रदर्शिता होना चाहिए। रोजाना कितने बेड खाली है कितने ऑक्सीजन सिलेंडर है कितने रेमडीसीविर इंजेक्शन उपलब्ध है। और साथ ही दुख की बात यह है जिला चिकित्सालय में एक एमडी डॉक्टर उपलब्ध नहीं है साथ ही निजी चिकित्सालय में सभी उपचार की राशि भी निश्चित होना चाहिए।

Leave a Reply