इंदौर में शराब ठेकेदार अर्जुन ठाकुर को दिनदहाड़े गोली मारी, कुख्यात गैंगस्टर सतीश भाऊ की मौजूदगी में हुआ हमला

इंदौर। शराब के अहाते को लेकर हुए विवाद में इंदौर में कुख्यात गैंगस्टर सतीश भाऊ की मौजूदगी में शराब ठेकेदार अर्जुन ठाकुर को गोली मार दी गई। हमलावर के रूप में एक अन्य शराब ठेकेदार हेमू ठाकुर और उनके भाई चिंटू ठाकुर का नाम सामने आया है। ‌ घटना के बाद अर्जुन के समर्थकों ने सत्य साईं चौराहा स्थित शराब सिंडिकेट के दफ्तर को फोड़ दिया। मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश रघुवंशी ने जैसे तैसे पथराव कर रही भीड़ पर नियंत्रण किया। ‌

घटना सोमवार दोपहर 3 बजे के आसपास की है। गांधीनगर क्षेत्र के शराब अहाते को लेकर चल रहे विवाद के संबंध में चर्चा के लिए अर्जुन शराब सिंडिकेट के ऑफिस पहुंचा था। यहां पर चर्चा के दौरान विवाद होने पर हेमू ठाकुर और पिंटू ठाकुर उस पर गोली चला दी। गोली अर्जुन के पेट और पीठ में लगी। कहा जा रहा है जी इस दौरान अनेक अपराधों में लिप्त कुख्यात गैंगस्टर सतीश भाऊ भी वहां मौजूद था।‌ घायल अर्जुन को तत्काल राजश्री अपोलो अस्पताल ले जाया गया। अभी वह खतरे से बाहर है।

अर्जुन को गोली लगने की खबर के बाद उसके समर्थक सत्य साईं चौराहे के पास शराब सिंडिकेट क्या ऑफिस पर इकट्ठा हो गए और पथराव शुरू कर दिया मौके पर मौजूद 2- 3 पुलिस जवान पथराव कर रही भीड़ पर नियंत्रण नहीं कर सके इसी बीच अपर पुलिस अधीक्षक राजेश रघुवंशी मौके पर पहुंचे और डंडा लेकर भीड़ के बीच घुस गए उन्होंने पथराव करने वालों का नेतृत्व कर रहे लोगों को समझाया और कुछ की पिटाई भी कर दी। किसी के बाद स्थिति पर नियंत्रण हो सका बाद में अर्जुन ठाकुर के समर्थक राजश्री अपोलो अस्पताल के बाहर एकत्र हो गए। ‌ यहां किसी भी तरह की अनहोनी को टालने के लिए भारी पुलिस बल तैनात किया गया था।

Leave a Reply