नगर पालिका इंजीनियरों को लगाई फटकार,ग्रीन बेल्ट कार्य मे लेटलतीफी पर नाराज हुवे सीएमओ!

नीमच, निप्र। स्किम नम्बर 34 व स्किम नम्बर 36 मेन रोड़ पर वृक्षारोपण के लिये तैयार हो रहे ग्रीन बेल्ट की फेंसिंग, लेबलिंग, भराव व कार्य मे धीमी गति पर सीएमओ सीपी रॉय ने इंजीनियरों पर ना केवल नाराजगी जताई बल्कि फटकार लगाते हुवे अल्टीमेटम भी दिया।
जैसा कि सर्वविदित है नीमच से लेकर राजस्थान की सीमा तक हरियाली व सौन्दर्यकरण के लिए विधायक दिलीपसिंह परिहार व कलेक्टर मयंक अग्रवाल द्वारा मेन रोड़ के किनारे नीमच जनपद व नगर पालिका स्तर पर वृक्षारोपण करवाया जा रहा है। 6 हजार पौधे बरसात पूर्व रोंपने का मानस है।
यही वजह है कि शहरी क्षेत्र में सामाजिक, व्यवसायिक, धार्मिक संगठनों को नगर पालिका के साथ जोड़कर पौधारोपण करवा रहे है।
इसी कड़ी में सोमवार शाम स्किम 36 मेन रोड़ पर विकसित हो रहे ग्रीन बेल्ट
का मौका मुआयना करने आए सीएमओ सीपी रॉय ने काम मे धीमी गति व बेतुकी प्लांनिग को लेकर इंजीनियर एमएल मालवीय व सब इंजीनियर ओपी परमार पर नाराजगी जाहिर कर, फटकार लगाई।
सीएमओ ने दोनों इंजीनियरों को समय सीमा का हवाला देते हुवे कहा कि काम अब तक पूरा क्यों नहीं हुआ। कब तक काम हो जावेगा। संबंधित कार्य करने वाले कांट्रेक्टर को नोटिस जारी कीजिए।
सीएमओ ने अल्टीमेटम देते हुवे कहा कि आज व कल में मुझे जवाब चाहिए कि इस मेन रोड़ से कलेक्टर चौराहा तक का ग्रीन बेल्ट का काम कब तक पूरा हो जावेगा..? वर्ना मैं स्वयं काम हाथ मे लेकर दस दिन में पूरा करने का दम रखता हूँ।

सीएमओ ने कहा ग्रीन बेल्ट के बीच मे गली या रास्ता मत छोड़ना

सब इंजीनियर ओपी परमार द्वारा सीएमओ के समक्ष स्किम नम्बर 36 मेन रोड़ पर निजी तोल कांटे मालिक द्वारा ग्रीन बेल्ट के बीच मे से रास्ता छोड़ने का दबाव बनाने की बात पर कड़क अंदाज में सीएमओ सीपी रॉय ने कहा कि चाहे जो दबाव हो, किसी भी कंडीशन में ग्रीन बेल्ट के बीच मे रास्ता मत छोड़ना। कालोनी में प्रवेश की रोड़ को छोड़, एक जैसी फेंसिग की पट्टी चलाना।

34 मेन रोड़ पर भी ग्रीन बेल्ट का काम भी शीघ्र शुरू कर देंगे

सीएमओ सीपी रॉय ने कहा कि स्किम नम्बर 34 मेन रोड़ से लगे ग्रीन बेल्ट का काम भी दो तीन दिन में शुरू हो जावेगा। इस काम को वे स्वयं देखेंगे। मौके पर मौजूद नगर समस्या एवं सुझाव ग्रुप के एडमिन विवेक खण्डेलवाल ने भी सीएमओ सीपी रॉय को आश्वस्त किया कि ग्रुप की टीम भी आपके साथ इस अभियान में तन मन व धन से काम करने को तैयार है।

वो तो अच्छा हुआ बरसात व उषा दीदी नहीं पहुंची…

स्किम नम्बर 36 मेन रोड़ पर बन रहे ग्रीन बेल्ट में आनन फानन में फेंसिग, रंग रोगन व पौधारोपण के लिए गड्ढे कर दिये गये थे। विधायक दिलीपसिंह परिहार की इच्छा थी कि प्रभारी मंत्री उषा दीदी ठाकुर के प्रथम नगर आगमन पर उनके हाथों यहां पौधे रोपे जावे पर किसी कारणवश कार्यक्रम नहीं बन पाया वहीं बरसात की लंबी खेंच के कारण भी काम अब तक चल रहा है वर्ना बारिश होते ही काम रोकना पड़ता। इस बात का लाभ भी नगर पालिका अधिकारियों को मिल गया बावजूद अब तक ग्रीन बेल्ट डेवलप नहीं कर पाये।

Leave a Reply