थाने पर हमला हुआ तो पुलिसवालों को भागना पड़ा, आंसू गैस के गोले छोड़े, तब काबू में आए हालत

करीब 200 से 300 महिला और पुरुषों ने सुबह थाने का घेराव कर दिया सूचना मिलते ही परिजन आक्रोशित हो गए और थाने में तोड़फोड़ की।

khargone

खरगोन: लूट के आरोपी की जेल में मौत के बाद गुसाई भीड़ ने खरगोन के बिस्टान में थाने पर हमला कर दिया। करीब 200 से 300 महिला और पुरुषों ने सुबह थाने का घेराव कर दिया और थाने पर पथराव करने के साथ पुलिसकर्मियों से भी मारपीट की। इतना ही नहीं पुलिस वाहनों को भी पलट कर तोडफ़ोड़ की, जिस्स्से वहां अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

ये भी पढ़ें- इंदौर में फिर एक हत्या, सीने में चाकू घोंप कर युवक को मार डाला

अपनी जान बचाने के लिए और भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। पुलिस के एक्शन के बाद ग्रामीण भागकर खेतों में पहुंच गए। घटना के बाद इलाके के बाजार बंद हो गए और लोग घर से बाहर निकलने में डर रहे हैं।

ये भी पढ़ें-  एयरपोर्ट पर साध्वी के पास मिली मानव खोपड़ी और हड्डियां, पूछताछ में किया बड़ा खुलासा

दरअसल, 10 दिन पहले चित्तौड़गढ़-भुसावल राजमार्ग पर ट्रक चालक और बाइक सवारों से मोबाइल, कैश और आभूषण लूटने वाले खैरकुंडी गांव के 12 आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा था। इन्हें कोर्ट में पेश कर 8 लोगों को जेल भेजा गया जबकि 4 आरोपियों को पुलिस रिमांड पर रखा गया था ।

ये भी पढ़ें- भाजपा नेता के अतिक्रमण पर चला निगम का बुलडोजर, बेटे ने देख लेने की धौंस दी

रिमांड में रहे बिसन को भी सोमवार को जेल भेज दिया गया, जहां रात में उसकी तबीयत बिगड़ी। इसके बाद उसे जेल से रात दो बजे जिला अस्पताल लाया गया। यहां इलाज के दौरान सुबह उसकी मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिजन आक्रोशित हो गए और थाने में तोड़फोड़ की।

Leave a Reply