स्टेटस पर वीडियो डालने के कारण फंसी स्विमिंग पूल मे मासूम बेटे की मौजूदगी मे प्रेमी डीएसपी के साथ अय्याशी करने वाली महिला कांस्टेबल

हंगामा मचने के बाद डीएसपी अपने बचाव में उतर आये है और कहा कि कांस्टेबल उसे ब्लैकमेल करने के लिए यह वीडियो बना रही थी।

राजस्थान के चर्चित डीएसपी और उनकी प्रेमिका कांस्टेबल का जो वीडियो पिछले दिनों वायरल हुआ था उस मामले में अब नया खुलासा हुआ है।दरअसल वह वीडियो 10 जुलाई को कांस्टेबल के बेटे के जन्मदिन पर बनाया गया था। असल में हुआ यह कि अपने एंजॉयमेंट का वीडियो कांस्टेबल सेव कर रही थी लेकिन गलती से वह स्टेटस पर लग गया और महिला कांस्टेबल की किस्मत इतनी खराब निकली की वह वीडियो उस के ससुराल वालों ने देख लिया।

हंगामा मचने के बाद डीएसपी अपने बचाव में उतर आये है और कहा कि कांस्टेबल उसे ब्लैकमेल करने के लिए यह वीडियो बना रही थी। वही मामले में अब अंदेशा है कि कांस्टेबल भी डीएसपी के खिलाफ कुछ केस दर्ज करवा सकती है।

पुलिस के मुताबिक निलंबित डीएसपी हीरालाल ने कांस्टेबल के बेटे के जन्मदिन के लिए पुष्कर के फाइव स्टार वेस्टिन होटल रिजॉर्ट एंड स्पा का लग्जरी सूट बुक कराया था। डीएसपी ने क्षेत्र के टीआई कोे फोन करके यह सूट बुक कराया था। जिसमे कमरे के साथ प्राइवेट स्विमिंग पूल भी था। जहाँ पर कांस्टेबल व डीएसपी ने मिलकर कांस्टेबल के आठ साल के बेटे का जन्मदिन मनाया। पूल को बैलून से सजाया गया था और पूल में ही केक काटने के बाद दोनों ने पूल में ही एन्जॉय किया। इस दौरान कांस्टेबल का बेटा भी पूल में आ गया था। कांस्टेबल और डीएसपी ने पूल में ही अश्लीलता की जिसे खुद इन्होंने महिला कांस्टेबल ने अपने मोबाइल के कैमरे में कैद कर लिया। कांस्टेबल इस वीडियो को सेव करना चाह रही थी सेव होने के बजाए वह वीडियो स्टेटस पर लग गया जिससे उन सभी लोगों को दिखने लगा जिसका नंबर कांस्टेबल व सामने वाले ने सेव कर रखा था। इसी दौरान में कांस्टेबल के ससुराल पक्ष के लोगों को भी यह पहुंचा जिसके बाद कांस्टेबल का पति हरकत में आया।

बताया जा रहा है कि कांस्टेबल व डीएसपी के पिछले पांच साल से संबंध है और इसी के चलते कांस्टेबल का उसके पति से विवाद भी होता रहता था। पुलिस ने रिजॉर्ट को लेकर जानकारी ली तथा मौके पर जाकर वीडियो में दिख रही जगह को मिलाकर भी देखा। रजिस्टर में डीएसपी व कांस्टेबल दोनों के साइन भी हैं और 16 हजार रुपये का भुगतान करना भी दिखाया गया है। घटना के बाद न्यायालय ने डीएसपी को 17 दिन की पुलिस रिमांड पर सौंपा है। डीएसपी का कहना है कांस्टेबल उनके 50 से ज्यादा वीडियो बना चुकी है ताकि उन्हें भविष्य में ब्लैकमेल कर सके। वही उड़ती उड़ती खबर भी आ रही है कि कांस्टेबल भी डीएसपी के खिलाफ कोई प्रकरण दर्ज कराने की तैयारी कर रही है।

Leave a Reply