NIMACH : ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने जा रहे युवक को बचाया टीआई श्री राजेन्द्र जी नरवरिया ने

नीमच – ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने वाले व्यक्ति को बचाया बघाना के टीआई श्रीराजेन्द्र जी नरवरिया ने. श्री नरवरिया रात्रि में भृमण करते हुए एकता कॉलोनी की तरफ पहुँचे तो देखा एक युवक एकता कॉलोनी की तरफ से दौड़ता हुआ शिवघाट पुलिया की तरफ जाता दिखाई दिया और पीछे पीछे एक महिला भी उक्त व्यक्ति के पीछे  चिल्लाते हुए दौड़ रही थी. प्रथम द्रष्टया तो टीआई सा. को यह चेन स्नेचिंग का प्रकरण लगा था लेकिन जब टी आई सा. ने  अपनी गाड़ी से उतरकर उस व्यक्ति के पीछे दौड़े तो वह व्यक्ति शिवघाट पुलिया पर मन्दसौर की तरफ से नीमच आ रही ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने जा रहा था. लेकिन रक्षक बने टी आई सा ने उक्त व्यक्ति को जो कि चार सीढ़िया चड़ गया था को पकड़ लिया और वह व्यक्ति ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या नही कर पाया और उसकी जान बच गई. जब ट्रेन गुजर गई तो उसके बाद उस व्यक्ति से पूछ-ताछ की जा रही थी तभी पीछे दौड़कर आ रही महिला  भी वँहा पहुंच गई। महिला ने बताया कि आत्महत्या की कोशिश करने वाला उसका भाई हैं, जिसका नाम मोहनलाल पिता देवमन मराठा उम्र 35 साल है. आत्महत्या की कोशिश करने का कारण पति पत्नी में विवाद होना बताया गया. लेकिन ट्रेन को आता देख आत्महत्या करने के लिए दौड़कर जा रहे मोहनलाल को टीआई सा.ने बचा लिया और एक अनहोनी होते होते रह गई. बाद में टी आई सा. श्री राजेन्द्र जी नरवरिया सा.और आत्महत्या की कोशिश करने वाले मोहनलाल मराठा की बहन श्रीमती राधा पति सन्तोष मराठा ने मोहन को समझाया व उसे घर भेजा .यह देखकर मोहन के परिवारवालो ने टीआई सा. को धन्यवाद दिया और कहा कि आज अगर समय पर टीआई सा.नही आते तो मोहन ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर चुका होता.

Leave a Reply