छह दिनों 7 भैंसों की मौत, सोनिक बायोकेम फेक्ट्री पर जहरीला रसासन नाले में छोड़ने का आरोप! कांग्रेस नेता जोकचन्द्र ने की फेक्ट्री सील करने की मां

पिपलिया स्टेशन। गांव थड़ोद में लगातार हो रही पशुओं की मौत पर ग्रामीणों ने सोनिक बायोकेम फेक्ट्री द्वारा नाले में छोड़े जा रहे केमिकल से मौत होना बताया है। राजस्व व पशु चिकित्सा विभाग ने बुधवार को गांव पहुँच पंचानामा बनाया। इधर कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र ने मानव, पशु व पर्यावरण को हानि पहुँचा रही फेक्ट्री को तत्काल सील करने की मांग की। जानकारी के अनुसार गांव थड़ोद निवासी रामसिंह पिता जुझारसिंह राजपूत की दो भैंसों की बुधवार को मौत हो गई। इससे पूर्व 5 दिनों में 5 भैंसों की मौत हो चुकी है। ग्रामीणों ने बताया सोनिक बायोकेम फेक्ट्री द्वारा नाले में छोड़े जा रहे जहरीले केमिकल से पशुओं की लगातार मौतें हो रही है। कई पशु बीमार है। ग्रामीणों ने प्रशासन से मामले की जांच कर जहरीला केमिकल नाले में छोड़ना बन्द कराने, फेक्ट्री पर कार्रवाई करने व पशु पालकों को आर्थिक सहायता देने की मांग की।
जोकचन्द्र ने की फेक्ट्री को सील करने की मांग:-
प्रदेश कांग्रेस महामंत्री श्यामलाल जोकचन्द्र ने आरोप लगाया कि जब से यह फेक्ट्री लगी है, तब से प्रदूषण के चलते पशु, पर्यावरण व मानव जीवन को नुकसान हो रहा है। पूर्व में कई बार शिकायतें करने के बाद भी इस पर शासन-प्रशासन कार्रवाई करने का साहस नही जुटा पाया। फेक्ट्री के प्रदूषण के कारण थड़ोद में कई बार लोग बीमार भी हुए है, जिनका केम्प लगाकर इलाज किया गया। इसके अलावा फसलों को भी काफी नुकसान हो रहा है। इस फेक्ट्री से निकले केमिकल व धुए से अफीम फसल को ज्यादा क्षति हो रही है, इसके धुए से थड़ोद स्थित अतिप्राचीन 12 बीघा का वटवृक्ष सूखने की कगार पर है। जोकचन्द्र ने तत्कालीन कलेक्टर हीरालाल त्रिवेदी को कई सामाजिक संस्थाओं ने ज्ञापन देकर फेक्ट्री के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी, जांच के बाद खामियां मिलने पर फेक्ट्री संचालक को सुधार के निर्देश दिए थे। लेकिन फेक्ट्री संचालक ने कोई सुधार नही किया और कलेक्टर त्रिवेदी के जाने के बाद मामला ठण्डे बस्ते में चला गया।
इनका कहना:
ग्रामीण रामसिंह व तिलकसिंह चौहान ने बताया छह दिन में सात पशुओं की मौत हो चुकी हैै, दो अभी भी बीमार है, प्रशासन शीघ्र मदद करे।
ब्लाक पशु चिकित्साधिकारी एजाज हुसेन बोहरा का कहना है भैंसों की मौत फेफड़ों में इंफेक्शन के कारण हुई है।

इधर फेक्ट्री प्रबन्धन से मामले को लेकर चर्चा करना चाही तो उनका कहना है कि इस मामले में उन्हें कोई प्रतिक्रिया नही देना है, सब फालतू बात है।

दो जुआरी धराए, दो फरार

Leave a Reply