उदयपुर हत्याकांड: कन्हैयालाल के हत्यारों की कोर्ट में पेशी के दौरान चप्पल-घूसों से पिटाई, देखें वीडियो

राजस्थान के उदयपुर जिले में कन्हैयालाल हत्याकांड में गिरफ्तार चारों आरोपियों को राष्ट्रीय जांच एजेंसी कोर्ट ने 10 दिन की एनआईए रिमांड में भेज दिया है। आरोपियों के कोर्ट में पेशी के दौरान आक्रोशित लोगों ने आरोपियों पर हमला कर दिया। पुलिस और कमांडो की मौजूदगी में लोगों ने जूते चप्पल थप्पड़ और घूसों से पिटा।

आरोपियों की पिटाई का वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में साफ देख सकते हैं कि जब उन्हें पुलिस की गाड़ियों में चढ़ाया जा रहा था तभी उसके पीछे लोग पुलिस की सुरक्षा के बीच उन्हें पीट रहे हैं। एक आरोपी की गर्दन पकड़ते हुए उसे पीछे से थप्पड़ भी मारते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस दौरान पुलिस एक-एक करके उन चारों आरोपियों को गाड़ी में चढ़ाती है। वहीं, उदयपुर की घटना के विरोध में वकीलों में काफी आक्रोश नजर आया। कोर्ट परिसर में वकीलों द्वारा नारेबाजी करने के साथ ही आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग की गई।

एनआईए और आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) की एक टीम ने उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल की नृशंस हत्या के चार आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच शनिवार को जयपुर की एनआईए कोर्ट में पेश किया। कोर्ट में पेश करने से पहले आरोपियों को लेकर पुलिस टीम एटीएस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) के कार्यालय में पहुंची।

उल्लेखनीय है कि गत 28 जून को कन्हैयालाल की हत्या के बाद राज्य सरकार ने विशेष अनुसंधान दल (एसआईटी) का गठन कर जांच शुरू की थी, लेकिन बाद में आरोपियों के तार दूसरे देशों से भी जुड़े होने के कारण इस मामले की जांच एनआईए को सौंप दी गई है।

हत्या के मुख्य आरोपी रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद ने कथित तौर पर 28 जून को भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा का समर्थन करने के लिए दर्जी कन्हैया लाल की उनकी दुकान पर चाकू से सिर कलम कर हत्या कर दी थी। इस नृशंस हत्याकांड के बाद इन आरोपियों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट करते हुए कहा था कि वे इस्लाम के अपमान का बदला ले रहे हैं। वीडियो में आरोपियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी धमकी दी थी। घटना के कुछ ही घंटों के भीतर दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

,

Leave a Reply