श्री नितिन गडकरी ने भारत एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने के लिए जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री श्री नितिन गडकरी ने भारत- एनसीएपी (नई कार आकलन कार्यक्रम) शुरू करने को लेकर जीएसआर अधिसूचना के प्रारूप को मंजूरी दी है। इसके तहत भारत में ऑटोमोबिल को क्रैश टेस्ट (टक्कर परीक्षण) में उनके प्रदर्शन के आधार पर स्टार रेटिंग दी जाएगी।

केंद्रीय मंत्री ने इस संबंध में सिलसिलेवार ट्वीट करके बताया कि भारत- एनसीएपी सुरक्षित वाहनों के निर्माण के लिए भारत में ओईएम (मूल उपकरण निर्माता) के बीच एक स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देते हुए एक उपभोक्ता- केंद्रित मंच के रूप में काम करेगा, जिससे ग्राहक स्टार- रेटिंग के आधार पर सुरक्षित कारों का चयन कर सकेंगे।

मंत्री ने आगे कहा कि क्रैश टेस्ट के आधार पर भारतीय कारों की स्टार रेटिंग न केवल वाहनों में संरचनात्मक और यात्री सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, बल्कि भारतीय ऑटोमोबिल की निर्यात- पात्रता को बढ़ाने के लिए भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि भारत- एनसीएपी के परीक्षण प्रोटोकॉल को मौजूदा भारतीय नियमों में फैक्टरिंग ग्लोबल क्रैश टेस्ट प्रोटोकॉल के साथ जोड़ा जाएगा। यह ओईएम को भारत की अपनी घरेलू परीक्षण सुविधाओं में अपने वाहनों का परीक्षण करने की अनुमति देता है।

श्री गडकरी ने कहा कि भारत- एनसीएपी, भारत को विश्व में नंबर 1 ऑटोमोबिल केंद्र बनाने के मिशन के साथ हमारे ऑटोमोबिल उद्योग को आत्मनिर्भर बनाने में एक महत्वपूर्ण साधन साबित होगा।

Leave a Reply